कर्मचारी-शिक्षकों के लिए अच्छी खबर, 3 वर्ष सेवा वृद्धि का मिलेगा लाभ, 65 वर्ष की उम्र में होंगे रिटायर, गाइडलाइन जारी

Employees Retirement Age : राज्य के कर्मचारी शिक्षकों के लिए अच्छी खबर है। दरअसल कार्य हेतु अधिकतम आयु सीमा के लिए गाइडलाइन जारी की गई है। इसी गाइड लाइन के जरिए शिक्षक कर्मचारी सेवारत रहेंगे। वही अधिकतम आयु सीमा के बाद उन्हें सेवानिवृत्त दी जाएगी।

लोक शिक्षण संचालनालय की तरफ से जारी गाइडलाइन में कहा गया है कि शिक्षकों के लिए आयु सीमा 65 वर्ष निर्धारित की गई है। 65 वर्ष तक कार्य करने के बाद शिक्षक सेवानिवृत किए जाएंगे।

शिक्षक कर्मचारी के 65 वर्ष तक की आयु तक सेवा लाभ

गाइड लाइन में लिखा गया कि अतिथि शिक्षकों के आमंत्रण संबंधित राज्य शासन के आदेश की कंडिका 5.6.1 के अनुसार शिक्षक कर्मचारी के 65 वर्ष तक की आयु तक सेवा लाभ दिए जाने का प्रावधान है। इसके बाद सेवानिवृत्त शिक्षकों को अतिथि शिक्षक के कार्य हेतु 65 वर्ष की आयु तक सेवा ली जा सकती है।

गाइडलाइन जारी

जारी गाइडलाइन में अतिथि शिक्षक के लिए आमंत्रण में अधिकतम आयु सीमा निर्धारित कर दी गई है। जिसके लिए महत्वपूर्ण निर्देश भी दिए गए हैं। सभी जिला शिक्षा अधिकारी, विकासखंड शिक्षा अधिकारी, संकुल प्राचार्य सहित हाईस्कूल और हायर सेकेंडरी स्कूल के प्राचार्य को गाइडलाइन की कॉपी भेजी गई है।

जारी निर्देश

इसके तहत अतिथि शिक्षकों के लिए आयु सीमा 62 वर्ष निर्धारित की गई है। 62 वर्ष तक उनसे सेवा का लाभ लिया जा सकता है। वहीं एसएमडीसी एसएमसी अतिथि शिक्षक से स्वास्थ्य जांच प्रमाण पत्र की भी मांग कर सकते हैं। इसके अलावा 5.6.7 के अनुसार यदि अतिथि शिक्षक स्वास्थ्य प्रमाण पत्र प्रस्तुत करता है तो उन्हें 65 वर्ष तक की आयु सीमा तक सेवालाभ का मौका दिया जा सकता है।