शादी बचाने के लिए पत्नी जा रही थी मंदिर, पति ने 1.90 करोड़ बीमा राशि के लिए करवा दी हत्या

Wife killed for 1.90 crore insurance amount : एक महिला अपने भाई के साथ मंदिर जा रही थी..रास्ते में एक एसयूवी ने उनकी मोटरसाइकिल को टक्कर मार दी। घटना में महिला की मौत हो गई। पहली नजर में ये एक सड़क हादसा लग रहा था, लेकिन पुलिस को कुछ शक हुआ। उसने सख्ती से पति से पूछताछ की तो चौंकाने वाले राज़ का पर्दाफाश हुआ।

ये घटना जयपुर की है। यहां बीमा के 1.90 करोड़ रुपये पाने के लिए महेश चंद नाम के शख्स ने अपनी पत्नी की हत्या की खौफनाक साजिश रच डाली। आरोपी की शादी शालू के साथ साल 2015 में हुई थी। दोनों की एक बेटी है। शादी के कुछ समय बाद पति पत्नी में झगड़े होने लगे और शालू अपने मायके चली गई। 2019 में उसने पति पर घरेलू हिंसा का मामला भी दर्ज कराया था। हाल ही में उसने शालू का बीमा कराया था। वहीं आरोपी ने अपनी पत्नी को ये भी कहा कि उसने उनके सुखी वैवाहिक जीवन के लिए मन्नत मांगी है। इसके लिए शालू को लगातार 10 दिन बिना किसी को बताए हनुमान मंदिर जाना होगा। उसने अपनी पत्नी को इस बात के लिए मना लिया और कहा कि मन्नत पूरी होने के बाद वो उसे घर ले आएगा।

इसके बाद शालू अपने चचेरे भाई के साथ मंदिर जाने लगी। लेकिन यहां मामला मन्नत का नहीं बल्कि एक खतरनाक साजिश का था। पुलिस के मुताबिक 5 अक्टूबर को जब शालू और उसका चचेरा भाई राजू मंदिर जा रहे थे, एस एसयूवी ने उनकी मोटरसाइकिल को टक्कर मार दी। घटना में शालू की मौके पर ही मौत हो गई जबकि राजू ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। जांच के बाद पुलिस ने बताया कि आरोप महेश चंद ने 40 साल की अवधि के लिए शालू का बीमा करवाया था। अगर शालू की प्राकृतिक रूप से मौत होती तो उसके पति को 1 करोड़ मिलते और अगर किसी दुर्घटना में जान जाती तो बीमित राशि 1.90 करोड़ थी।

आरोपी महेश चंद ने शालू की हत्या के लिए हिस्ट्रीशीटर मुकेश सिंह राठौर को सुपारी दी थी। इस कारम के लिए राठौर ने उससे 10 लाख रुपये मांगे थे। आरोपी ने उसे 5.5 लाख एडवांस दिया था। हिस्ट्रीशीटर ने इस काम के लिए कुछ और लोगों की भी मदद ली थी फिलहाल मामले का खुलासा होने के बाद मुकेश राठौर और दो अन्य आरोपी राकेश सिंह और सोनू को भी गिरफ्तार किया गया है। कुछ अन्य आरोपी फरार है और पुलिस उनकी तलाश कर रही है।