iaf-pilot-abhinandan-varthaman-is-returning-india-today

नई दिल्ली। आज हिंदुस्तान के जांबाज पायलट विंग कमांडर अभिनंदन की भारत वापसी होने वाली है।आज पाकिस्तान अभिनंदन को रिहा करने वाला है। भारत के आक्रामक रुख के बाद पाकिस्तान ने यह फैसला लिया है।  मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस्लामाबाद में भारतीय ग्रुप कैप्टन जेडी कुरियन अभिनंदन को लेकर आएंगे वे दोपहर दो बजे के बाद वाघा बॉर्डर पहुंचेंगे।अभी से वाघा बॉर्डर पर लोगों का पहुंचना शुरू हो गया है। यहां जश्‍न का माहौल है।अभिनंदन के स्वदेश लौटने का पूरे देश को इंतजार है और देशभर में उनकी वापसी से उत्साह है

 इसके बाद अभिनंदन का भारत में जोरदार स्वागत होगा। दोपहर बाद विंग कमांडर को वाघा बॉर्डर से अभिनंदन उस वक्त भारत लौटेंगे जब यहा बीटिंग द रिट्रीट चल रही होगी। विंग कमांडर अभिनंदन का स्वागत करने के लिए उनका परिवार और सैकड़ों लोग वाघा सीमा पर मौजूद होंगे।  भारत चाहता है कि अभिनंदन की रिहाई दोपहर तक हो जाए वहीं पाकिस्तान चाहता है कि वो अभिनंदन को बीटिंग रिट्रीट के दौरान भारत को सौंपे।अभिनंदन को लेने के लिए के चेन्नई से उनके माता-पिता जब फ्लाइट से दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचे तो लोगों ने ताली बजाकर उनका स्वागत किया। देर रात करीब डेढ़ बजे वे चेन्नई से दिल्ली पहुंचे और फिर दिल्ली से फ्लाइट चेंज कर अमृतसर निकल गए।

पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह समेत वायुसेना के बड़े अधिकारी और मोदी सरकार के कई मंत्री भी बाघा बॉर्डर पर अभिनंदन का स्वागत करेंगे। इससे पहले अमरिंदर सिंह ने ट्विटर पर लिखा मैं पंजाब के सीमावर्ती क्षेत्रों का दौरा कर रहा हूं और मैं वर्तमान में अमृतसर में हूं। पता चला कि पाकिस्तान सरकार ने वाघा से अभिनंदन को भेजने का फैसला किया है। यह मेरे लिए सम्मान की बात होगी कि मैं उसके स्वागत में वहां रहूं और उसे रिसीव करूं, क्योंकि वह और उसके पिता एनडीए के पूर्व छात्र हैं।

गुरुवार को इमरान ने किया था रिहाई का ऐलान

भारत के सख्त तेवर से झुकने को मजबूर पाकिस्तान ने गुरुवार को भारतीय पायलट विंग कमांडर अभिनंदन को छोड़ने का ऐलान किया था। पाक संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए पाक प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि भारतीय पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान हमारे सेना के हिरासत में हैं। शांति की पहल के तौर पर शुक्रवार को अभिनंदन को भारत भेज दिया जाएगा। उनके इस फैसले का पाक सांसदों ने मेजे थपथपाकर स्वागत किया।इससे पहले भारत ने दो टूक कह दिया था कि उसे अपने पायलट की रिहाई से कम कुछ भी मंजूर नहीं। 

भारता का दबाव आया काम

पाक की हिरासत से अभिनंदन को छुड़ाने के लिए सरकार और एजेंसियां चौतरफा कोशिश कर रही थीं। सूत्रों ने बताया कि विदेश मंत्रालय जहां दुनिया के देशों से इस मुद्दे पर संपर्क साथ कर जनमत तैयार कर रहा था। साथ ही मंत्रालय ने दो टूक कह दिया था कि वह अभिनंदन के लिए राजनयिक पहुंच नहीं मांगेगा। भारत ने साफ कर दिया कि उसे अभिनंदन की सुरक्षित वापसी से कम कुछ भी मंजूर नहीं है। पाकिस्तान को स्पष्ट संदेश दिया गया था कि अगर अभिनंदन को कुछ होता है या उनको यातना दी जाती है तो भारत किसी भी स्तर पर जाकर कार्रवाई कर सकता है। इसके साथ ही भारत सैन्य विकल्पों को भी मजबूत कर रहा था।

पाक के 3 विमानों ने की थी घुसपैठ

इससे पहले बुधवार को पाकिस्तान वायुसेना के तीन विमानों ने भारतीय वायु क्षेत्र का उल्लंघन किया था। वे यहां तीन मिनट तक रहे। पाक ने सैन्य प्रतिष्ठानों पर हमले की कोशिश की थी। वायुसेना ने घुसपैठ का जवाब देने के लिए 2 मिग-21 और 3 सुखोई-30 भेजे। मिग के पायलट ने एक पाकिस्तानी एफ-16 मार गिराया। हालांकि, इस दौरान हमारा एक मिग क्रैश हो गया, जिसके चलते पायलट विंग कमांडर अभिनंदन को पाकिस्तान ने बंदी बना लिया।