IAS अधिकारी पर महिला ने लगाया बलात्कार का आरोप,सरकार ने दिए जांच के आदेश

454

जांजगीर/छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ में एक IAS अधिकारी पर लगे बलात्कार (rape) के आरोपों ने हड़कंप मचा दिया है। उसपर कलेक्टर (collector) के पद पर रहते हुए बलात्कार का गंभीर आरोप लगा है। 2007 बैच के इस IAS अफसर पर जांजगीर कलेक्टर (janjgeer collector) रहते हुए एक महिला को काम दिलाने के बहाने उसका शारीरिक शोषण करने का आरोप है।

महिला (victim) ने इस मामले की शिकायत पुलिस (police) में की जिसके बाद मौजूदा कलेक्टर यशवंत कुमार ने एसपी पारूल माथुर को जांच के निर्देश दिये हैं। आरोप लगाने वाली महिला शादीशुदा है और पूर्व जनपद सदस्य रह चुकी है। उसने अपनी शिकायत के साथ पुलिस को कई साक्ष्य भी सौंपे हैं। इस मामले पर चीफ सेक्रेट्री आरपी मंडल ने कहा है कि उनके पास अभी इस मामले की कोई जानकारी नहीं आयी है, लेकिन वो पूरी घटना की जानकारी लेने के बाद इसकी जांच कराएंगे। वहीं इस सनसनीखेज आरोप के बाद सरकार ने भी मामले पर संज्ञान लिया है। इस मामले में जनसंपर्क आयुक्त तारण सिन्हा ने कहा है कि IAS के खिलाफ रेप की शिकायत आयी है, शिकायत मिलने के बाद अब अग्रिम कार्रवाई की जा रही है।

इस महिला का कहना है कि कलेक्टर ने कलेक्ट्रेट में ही अपने चैंबर में ही उसके साथ रेप किया। 15 मई को वो अपने एनजीओ को काम दिलाने के सिलसिले में वहां गई थी, तभी एनजीओ का काम दिलाने का झांसा देकर कलेक्टर ने उसका बलात्कार किया। महिला का आरोप है कि कलेक्टर ने ऐसा कई बार किया और हर बार कहता रहा कि उसे काम दिलाया जाएगा, लगभग डेढ़ महीने तक यही सिलसिला चलता रहा। लेकिन इतने समय बाद भी काम न मिलने पर महिला ने उससे दूरी बनाना शुर कर दिया। महिला का कहना है कि इसके बाद कलेक्टर ने उसे प्रताड़ित करना शुरू कर दिया और उसके पति की नौकरी ले डालने की धमकी तक दे डाली। महिला के मुताबिक डर के कारण ही वो उनके वहां कलेक्टर रहते शिकायत नहीं कर पाई और तबादला होने के बाद रिपोर्ट दर्ज कराई। इस महिला ने जांजगीर महिला थाने में कलेक्टर के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी है और साक्ष्य भी सौंपे हैं। साक्ष्य में महिला और कलेक्टर के बीच बातचीत की रिकार्डिंग और कुछ तस्वीरें है। महिला ने जो बातचीत और मैसेज के सबूत दिये हैं, उससे जाहिर होता है कि उसकी कलेक्टर से लगातार बात होती थी। ताज्जुब इस बात का है कि कलेक्टर महिला से न सिर्फ आपत्तिजनक बातें करता था बल्कि उससे अश्लील फोटो की डिमांड भी करता था। इतना ही नहीं, वो अपनी पर्सनल फोटो भी महिला के मोबाइल पर भेजा करता था। बता दें कि 2007 बैच के इस आईएएस अधिकारी को हाल ही में मंत्रालय में वापस बुलाया गया है और उसकी पदस्थापना भू-अभिलेख में की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here