रेप के आरोप के बाद IAS अधिकारी जनक पाठक सस्पेंड

1395

रायपुर| छत्तीसगढ़ (Chattisgarh) में दुष्कर्म के आरोप में घिरे आईएएस अधिकारी जनक प्रसाद पाठक (Janak Prasad Pathak) को गुरुवार को सस्पेंड कर दिया गया। IAS जनक पाठक पर एक महिला ने रेप का आरोप लगाया है, जिसके बाद जांजगीर-चाम्पा पुलिस ने FIR दर्ज कर ली है| आईएएस पाठक पर जांजगीर जिले का कलेक्टर रहते हुए अपने चैंबर में महिला से दुष्कर्म का आरोप है। मामले सामने आने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) ने चीफ सेक्रेट्री आरपी मंडल को कार्रवाई के निर्देश दिए थे। साथ ही मामले की उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए गए हैं।

जांजगीर-चांपा जिले के कलेक्टर रहे, बलात्कार के आरोपी आइएएस जनक पाठक को मुख्य सचिव आर.पी. मण्डल ने निलंबित कर दिया है. मामले में पूरे प्रकरण की जांच उच्च स्तरीय दल से कराने के निर्देश भी हुए हैं. जिसके लिए एक समिति भी बनाई जाएगी| सूत्रों के मुताबिक जल्द ही गिरफतारी भी हो सकती है|

काम दिलाने का झांसा देकर रेप का आरोप
अधिकारी पर जांजगीर चांपा (Janjgir-Champa) के कलेक्टर (Collector) के पद पर रहते हुए काम दिलाने का झांसा देकर रेप का गंभीर आरोप लगा है। पीड़िता के मुताबिक पूर्व कलेक्टर जनक प्रसाद पाठक ने अपने कार्यालय के रेस्ट रुम में दुष्कर्म किया| आरोप लगाने वाली महिला शादीशुदा है । उसने अपनी शिकायत के साथ पुलिस को कई साक्ष्य भी सौंपे हैं।

चैम्बर में किया रेप
पीड़ित महिला का कहना है कि कलेक्टर ने कलेक्ट्रेट में ही अपने चैंबर में ही उसके साथ रेप किया। 15 मई को वो अपने एनजीओ को काम दिलाने के सिलसिले में वहां गई थी, तभी एनजीओ का काम दिलाने का झांसा देकर कलेक्टर ने उसका बलात्कार किया। महिला का आरोप है कि कलेक्टर ने ऐसा कई बार किया और हर बार कहता रहा कि उसे काम दिलाया जाएगा, लगभग डेढ़ महीने तक यही सिलसिला चलता रहा। लेकिन इतने समय बाद भी काम न मिलने पर महिला ने उससे दूरी बनाना शुर कर दिया। महिला का कहना है कि इसके बाद कलेक्टर ने उसे प्रताड़ित करना शुरू कर दिया और उसके पति की नौकरी ले डालने की धमकी तक दे डाली। महिला के मुताबिक डर के कारण ही वो उनके वहां कलेक्टर रहते शिकायत नहीं कर पाई और तबादला होने के बाद रिपोर्ट दर्ज कराई।

रिकार्डिंग और कुछ तस्वीरें साक्ष्य के रूप में दिए
महिला ने कलेक्टर के साथ अपनी बातचीत की रिकार्डिंग और कुछ तस्वीरें भी पुलिस को दी हैं| महिला ने जो बातचीत और मैसेज के सबूत दिये हैं, उसमें कलेक्टर की उससे नियमित बात होती थी. हैरानी की बात ये है कि महिला से ना सिर्फ कलेक्टर आपत्तिजनक बातें किया करते थे, बल्कि पर्सनल तस्वीरों की भी डिमांड किया करते थे|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here