IAS Transfer 2024: राज्य में हुए 5 आईएएस अधिकारियों के तबादले, आदेश जारी, सभी को मिली नई जिम्मेदारी, यहाँ देखें लिस्ट 

राज्य में 5 आईएएस अधिकारियों को नए पद पर नियुक्त किया गया है। आदेश भी जारी हो चुका है। आइए जानें किसे कौन-सी जिम्मेदारी सौंपी गई है?

Manisha Kumari Pandey
Published on -
ias transfer

IAS Transfer 2024: लोकसभा चुनाव परिणाम के बाद से कई राज्यों में आईएएस और आईपीएस अधिकारियों के तबादले का सिलसिला जारी हो चुका है। गुजरात में पाँच आईएएस अधिकारियों को प्रमोशन के परिणाम स्वरूप इधर से उधर किया गया है। सामान्य प्रशासन विभाग (General Administration Department) ने स्थानंतरण के संबंध में आदेश भी जारी कर दिया है। सभी अफसरों को नई जिम्मेदारी सौंपी गई है।

इस आईएएस अधिकारियों को मिली नई जिम्मेदारी 

  • आईएएस अधिकारी बी.जे पटेल (B.J Patel) को अतिरिक्त महानिरीक्षण पंजीकरण, वडोदरा जोन के पद पर तैनात किया गया है।
  • श्रीमती के.एस याग्निक (K.S Yagnik) को सदस्य सचिव, गुजरात राज्य महिला आयोग, गांधीनगर पद की जिम्मेदारी सौंपी गई है।
  • ए.बी भानुमती (A.B Bhanumati) को संयुक्त प्रबंध निदेशक, इंडेक्स-बी गांधीनगर पद पर नियुक्त किया गया है।
  • बी.बी चौधरी (B.B Chaudhari) को रेजिडेंट अपर कलेक्टर, डांग्स-आहबा पद पर भेजा गया है।
  • बी.सी परमार (B.C Parmar) विशेष कर्तव्य अधिकारी, अहमदाबाद नगर निगम होंगे।

ias transfer

कुछ दिन पहले हुआ था 4 आईएएस अधिकारियों का तबादला 

कुछ दिन पहले ही गुजरात सरकार ने 4 आईएएस और एक जीएएस अधिकारी का स्थानंतरण किया था। अमृतेश कालिदास औरंगाबादकर को राज्य कैडर में वापस आने पर अहमदाबाद नगर निगम डिप्टी म्यूनिसिपल कमिश्र पद पर नियुक्त किया गया। रिध्देश पी रावल जो सुरेन्द्रनगर सुपरन्यूमरेरी एडिशनल कलेक्टर पद पर कार्यरत थे उन्हें अहमदाबाद नगर निगम उप नगर आयुक्त पद की जिम्मेदारी सौंपी गई। महेश एस जानी को बनासकाँठा-पालनपुर अतिरिक्त कलेक्टर पद से हटकर राजकोट नगपालिकाओं के क्षेत्रीय आयुक्त पद पर नियुक्त किया है। जयेशकुमार बी उपाध्याय को दाहोद सुपरन्यूमरेरी एडिशनल कलेक्टर पद से हटाकर अहमदाबाद में उप नगर आयुक्त के रूप में उनकी नई भूमिका के लिए शहरी विकास और शहरी आवास विभाग में स्थानंतरित किया किया है। वहीं जीएएस गुजरात पंचायत सेवा चयन बोर्ड सचिव बी.सी परमार को अहमदाबाद नगर निगम में विशेष कार्य अधिकारी पद पर नियुक्त किया गया था।


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News