पूर्वोत्तर मानसून का असर, 8 राज्यों में 84 घंटे भारी बारिश, पर्वतीय क्षेत्रों में भारी बर्फबारी, आसमान में छाएंगे बादल, गिरेगा तापमान, बढ़ेगा कोहरा

weather

IMD Weather Today, Mausam Update, :देश में सक्रिय दो चक्रवात के विलुप्त होने के बाद अब जल्दी पूर्वोत्तर मानसून का असर दिखेगा। दरअसल दक्षिण भारत में पूर्वोत्तर मानसून के गति पकड़ने के लिए मौसम अनुकूल हो रहा है। साथ ही पर्वतीय क्षेत्रों में भारी बर्फबारी भी शुरू हो गई है। जल्द ही राजस्थान अफगानिस्तान और पाकिस्तान के बीच एक पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होगा। जिसके कारण राजस्थान में मौसम बदल सकता है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने अगले 5 दिनों में तमिलनाडु और केरल में चमक के साथ तेज हवा चलने और आंधी के साथ व्यापक बारिश की भविष्यवाणी की है। रविवार और सोमवार को तटीय दक्षिण आंध्र प्रदेश कर्नाटक में पूर्वोत्तर मानसून का असर दिखेगा। अति भारी बारिश का पूर्वानुमान जताते हुए मध्य अलर्ट जारी किया गया वहीं आंध्र प्रदेश में भी मौसम तेजी से बदल रहा है। आसमान में बादल छाए हुए हैं।

पर्वतीय क्षेत्रों और ऊपरी चोटियों पर भारी बर्फबारी

जम्मू कश्मीर, लेह, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान मुजफ्फराबाद सहित हिमाचल उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्रों और ऊपरी चोटियों पर भारी बर्फबारी देखी जाएगी जबकि निचले इलाकों में मध्यम बारिश का भी पूर्वानुमान जताया गया है। तमिलनाडु तट से दूर दक्षिण पश्चिम बंगाल की खाड़ी पर एक चक्रवाती परिसंचरण और निचले दक्षिण तमिलनाडु पर एक और साइक्लोनिक सर्कुलेशन की क्रिया निर्मित हो रही है। इन प्रणालियों की वजह से प्रायद्वीपीय भारत की ओर नमी का स्तर बढ़ जाएगा।

ऐसे में झारखंड बिहार उत्तर प्रदेश उड़ीसा सहित छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश के मौसम में महत्वपूर्ण बदलाव होंगे। आसमान में बादल छाए रहेंगे। कोहरा का स्तर बढ़ता रहेगा।रविवार से मंगलवार तक तमिलनाडु पुडुचेरी कराईकल दक्षिण आंतरिक कर्नाटक और केरल में भारी बारिश का अनुमान है। इसके अलावा सब मेघालय मणिपुर नगालैंड मिजोरम में भी भारी बारिश का पूर्वानुमान भी बताया गया है। 64.5 मिली मीटर से 115.5 मिली मीटर बारिश का अनुमान है।

पूर्वानुमान के जवाब में आईएमडी द्वारा इन क्षेत्रों में येलो ऑरेंज अलर्ट जारी करते हुए स्थानीय मौसम का हवाला दिया गया है। सरकार के स्तर पर लोगों को सतर्क रहने के निर्देश दिए गए हैं।रविवार और सोमवार को तमिलनाडु में, रविवार और सोमवार को विल्लुपुरम, कल्लाक्कुरिची, कुड्डालोर, सेलम, पेरम्बलुर, तिरुवरुर, पुदुक्कोट्टई, तिरुचिरापल्ली, तंजावुर, डिंडीगुल, मदुरै, विरुधुनगर और थूथुकुडी जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।केरल के कन्नूर, वायनाड, कोझिकोड, पलक्कड़, त्रिशूर, एर्नाकुलम और इडुक्की के साथ-साथ कर्नाटक के चिकमगलूर और हसन के लिए भी इसी तरह के अलर्ट जारी किए गए हैं।

उत्तर प्रदेश बिहार झारखंड शाहिद उड़ीसा पश्चिम बंगाल हरियाणा पंजाब में मौसम शुष्क रहेगा। मध्य प्रदेश राजस्थान और गुजरात में भी नमी का अनुभव किया जाएगा। हालांकि सुबह और शाम इन क्षेत्रों में ठंड बढ़ने का भी अनुमान जताया गया। न्यूनतम तापमान में 4 से 5% की गिरावट देखी जाएगी जबकि विजिबिलिटी कम होने के साथ ही कोहरे में वृद्धि होगी। दक्षिण भारत में होने वाले बारिश के साथ ही देश भर में ठंडी हवा की गतिविधि बढ़ेगी। इसके बाद ठंड की शुरुआत अच्छी जाएगी।

पछुआ हवा का प्रभाव

बिहार में सुबह शाम गुलाबी ठंड का अनुभव होगा जबकि पछुआ हवा का प्रभाव देखने को मिलेगा। सुबह धुंध छाई रहेगी। दिन भर धूप खिली रहेगी उत्तर प्रदेश और झारखंड में भी मौसम समान रहने वाले पूर्वांचल के 083 क्षेत्र में कोहरा नजर आएगा जबकि मौसम सामान्य रहेगा दिन भर धूप खिली रहेगी। तापमान में 3 से 4% गिरावट रिकॉर्ड की जाएगी। उत्तराखंड में कड़ाके की ठंड का अनुभव होगा। मैदानी क्षेत्रों में रात में ठंड बढ़ेगी। देहरादून में न्यूनतम तापमान सामान्य से 1 डिग्री कम रिकॉर्ड किया गया है।

जम्मू में तापमान माइनस में पहुंच गया है। बर्फबारी का सिलसिला जारी रहने वाला है। आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। पंजाब में भी बदल देखने को मिलेंगे। अधिकतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस तक रहेगा। बीच में हल्की-हल्की हवा चलेगी। मौसम शुष्क बना रहेगा। हरियाणा में बारिश का पूर्वानुमान है। 28 और 29 अक्टूबर को पश्चिमी विकशॉप की सक्रियता के साथ ही हल्की बारिश देखने को मिल सकती है। दरअसल पश्चिम विक्षोभ कमजोर है। जिसके कारण राजस्थान में भी कुछ इलाकों में तेज बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है। गुजरात में मौसम शुष्क रहेगा। महाराष्ट्र में भी मौसम शुष्क रहने का पूरा अनुमान है। कुछ जिलों में तापमान में इजाफा देखा जा सकता है।


About Author
Kashish Trivedi

Kashish Trivedi

Other Latest News