IMD Weather Today : 15 राज्यों में 9 दिसंबर तक भारी बारिश, वज्रपात आंधी की चेतावनी, यहां बढ़ेगा तापमान, जानें दिल्ली-UP-बिहार पर पूर्वानुमान

IMD Weather Alert

IMD Weather Update Today 6 December 2023 : बंगाल की खाड़ी में पिछले दिनों उठे चक्रवाती तूफान “मिचौंग” ने तमिलनाडु के बाद आंध्र प्रदेश में भी तबाही मचा दी, कल इसकी मौजूदगी  ने आंध्र प्रदेश के जनजीवन को बुरी तरह प्रभावित किया, मौसम विभाग के मुताबिक ये अभी आंध्र प्रदेश के ऊपर गहरे दबाव में बदल गया है लेकिन अभी सक्रियता बरक़रार है, इसे देखते हुए तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, छत्तीसगढ़ में भारी बारिश की आशंका है।

मिचौंग ने आंध्र प्रदेश में कितनी मचाई तबाही ? 

चक्रवाती तूफान ने आंध्र प्रदेश में भी बहुत नुकसान किया सड़कें उखड गई, नदियाँ उफान पर हैं नहरें, तालाब पानी से लबालब हैं और अपने पार तोड़ रहे हैं, हजारों एकड़ फसलें पानी में डूब गई हैं, हालात को देखते हुए प्रदेश के अनकापल्ली जिले में 52 पुनर्वास केंद्र बनाये गए हैं, राज्य सरकार अनाज को भीगने से बचाने का उपाय भी कर रही है कई जिलों में स्कूलों की छुट्टी कर दी गई है।

NDRF अलर्ट पर 29 टीमें तैनात 

हालात के मद्देनजर आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, तेलंगाना और पुडुचेरी में NDRF की 29 टीमें तैनात हैं, गौरतलब है कि आंध्र प्रदेश  से पहले चक्रवाती तूफान मिचौंग तमिलनाडु में कोहराम मचा चुका है यहाँ 12 लोगों ने जान गंवाई है , कई घायल हैं, सड़कों से पानी निकालने के प्रयास जारी हैं, अभी जनजीवन पूरी तरह सामान्य नहीं हो पाया है।

कमजोर हुआ मिचौंग लेकिन सक्रियता बरक़रार 

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने कहा है कि गंभीर चक्रवाती तूफान मिचौंग कमजोर होकर चक्रवाती तूफान में बदल गया है, 5 दिसंबर की शाम 5 बजे ये तटीय आंध्र प्रदेश पर बापटला से लगभग 25 किलोमीटर पश्चिम-उत्तर-पश्चिम से 60 किलोमीटर उत्तर -उत्तर पूर्व में केंद्रित था, इसके उत्तर की ओर बढ़ने और कमजोर होने की सम्भावना है, अभी ये सक्रिय बना हुआ है।

किन किन राज्यों में बारिश की चेतावनी ? 

  • तटीय आंध्र प्रदेश में मौसम विभाग ने भारी बारिश की आशंका जताई है ।
  • तेलंगाना में भी अधिकांश स्थानों पर बारिश का अनुमान है।
  • ओडिशा में दक्षिण तटीय और आसपास के दक्षिण आन्तरिक ओडिशा में अलग अलग स्थानों पर बारिश होगी।
  • छत्तीसगढ़ में अधिकांश थानों पर मध्यम से भारी बारिश का अनुमान है।

About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News