कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर, सेवानिवृत्ति आयु होंगे 60 वर्ष, नई एचआर पॉलिसी तैयार, सचिवालय को भेजा गया प्रस्ताव

Anganwadi Employees HR Policy Retirement Age : राज्य में कर्मचारियों के लिए एचआर नीति बनाने की तैयारी की जा रही है। नीति बनाने के साथ ही इसमें कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति आयु को 60 साल निर्धारित किया गया है। कर्मचारी 60 साल की आयु में सेवानिवृत्त होगी। एचआर नीति तैयार होने के साथ ही 300 से अधिक कर्मचारी रिटायर हो जाएंगे।

सेवानिवृत्ति आयु होगी 60 वर्ष

इससे पहले आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहित हेल्पर की सेवानिवृत्ति आयु 65 साल निर्धारित की गई थी। हालांकि अब एचआर नीति बनाने के साथ ही इसमें कमी की जा रही है। इसे 65 से घटाकर 60 किया जा रहा है। इस मामले में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को भी सूचना दे दी गई है।

एचआर नीति तैयार

बता दें कि प्रदेश भर में फिलहाल सट्टे बाजार से अजीत आंगनबाड़ी केंद्र संचालित किए जा रहे हैं। नई एचआर पॉलिसी के तहत सेवानिवृत्त कर्मचारियों को वित्तीय लाभ नहीं दिया जाएगा। एक तरफ जहां उनके सेवानिवृत्ति आयु में कमी की गई है। दूसरी तरफ वित्तीय लाभ नहीं मिलने से कर्मचारी खासे नजर आ रहे हैं। इस मामले में विभाग द्वारा सचिवालय को प्रस्ताव बनाकर भेज दिया गया है।

कर्मचारियों का विरोध

इस मामले में आंगनवाड़ी वर्कर्स वेलफेयर एसोसिएशन के महासचिव रिशु शर्मा का कहना है कि कर्मचारियों के साथ अन्याय किया जाता है। सेवानिवृत्त होने पर उन्हें वित्तीय लाभ नहीं दिया जा रहा है। 30 से 40 साल तक आंगनबाड़ी केंद्रों में सेवाएं देने के बाद भी कर्मचारियों को सेवानिवृत्ति पर वित्तीय लाभ नहीं दिया जाना उनके साथ अन्याय है। सरकार को इस पर पुनर्विचार करना चाहिए।

हालांकि इधर कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति सहित उनके सेवा लाभ को लेकर एचआर नीति तैयार कर ली गई है। इसके प्रावधानों का प्रस्ताव बनाकर उन्हें सचिवालय भेज दिया गया है। जल्द ही इस पर मुहर लग सकती है।