सरकारी कर्मचारियों के लिए जरूरी खबर, जारी हुए ये निर्देश, करना होगा पालन, वरना रुकेगी सैलरी!

इसके बाद प्रदेश प्रशासन ने निर्देश न मानने वाले ऐसे अधिकारियों की सूची 1 हफ्ते में तलब की गई है।

government employees news
DEMO PIC

जम्मू, डेस्क रिपोर्ट। जम्मू कश्मीर के सरकारी कर्मचारियों (Government employees) के लिए काम की खबर है। सरकारी विभागों में बायोमीट्रिक हाजिरी न लगाने वाले कर्मचारियों को अब वेतन नहीं मिलेगा। इस संबंध में सचिव डॉ. पीयूष सिंगला ने सभी डीडीओ को सख्त निर्देश जारी किए है।अब इस मामले में अनुशासनहीनता को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ड्राइंग एंड डिस्वर्सिंग अधिकारियों को हर रोज इस दिशा में सामान्य प्रशासनिक विभाग को एक्शन टेकन रिपोर्ट देनी होगी।

यह भी पढ़े..SSC Recruitment: 2168 पदों पर निकली है भर्ती, प्रक्रिया शुरू, 10 दिसंबर से पहले करें आवेदन, जानें आयु-पात्रता

दरअसल, बीते जून महीने में प्रदेश प्रशासन ने बायोमीट्रिक हाजिरी न लगाने वाले कर्मचारियों को वेतन ना देने का आदेश दिया था, बावजूद इसके बाद कई सरकारी विभागों में ड्राइंग एंड डिस्वर्सिंग अधिकारियों (डीडीओ) ने कर्मचारियों का वेतन देना जारी रखा। जैसे ही इसकी सूचना प्रशासन को लगी, जवाब तलब किया गया। इसके बाद प्रदेश प्रशासन ने निर्देश न मानने वाले ऐसे अधिकारियों की सूची 1 हफ्ते में तलब की गई है।

यह भी पढ़े..Transfer 2022: बड़ा प्रशासनिक फेरबदल, 11 आईपीएस अधिकारियों के तबादले, यहां देखें लिस्ट

वही सरकारी कार्यालयों में बायोमीट्रिक हाजिरी अनिवार्य रुप से प्रभावी बनाने के संबंध में जम्मू कश्मीर सरकार का यह आदेश शुक्रवार को सचिव डा. पीयूष सिंगला की ओर से फिर जारी किया गया। इसके साथ ही राज्य सरकार ने सभी प्रशासनिक सचिवों को सख्त निर्देश दिए हैं कि वे अपने विभागों में बायोमीट्रिक हाजिरी लगाने की व्यवस्था को पूरी तरह से लागू करें।अब इस मामले में अनुशासनहीनता को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ड्राइंग एंड डिस्वर्सिंग अधिकारियों को हर रोज इस दिशा में सामान्य प्रशासनिक विभाग को एक्शन टेकन रिपोर्ट देनी होगी।