Indian Air Force में शामिल होंगे और 10 राफेल, बढ़ेगी मारक क्षमता

Indian Air Force को 10 राफेल (Rafale) विमान को मिलने वाले हैं। नए विमानों के आने के बाद कुल राफेल लड़ाकू विमानों की संख्या 21 हो जाएगी।

rafale

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। भारतीय वायु सेना (Indian Air Force) की ताकत में जोरदार इजाफा होने जा रहा है। एक महीने के अंदर भारतीय वायु सेना (IAF) के बेड़े में एडवांस ट्क्नोलॉजी से लैस 10 राफेल (Rafale) विमान शामिल होने वाले हैं। इन्हें नए स्क्वाड्रन मेंं शामिल किया जाएगा। नए विमानों के आने के बाद कुल राफेल लड़ाकू विमानों की संख्या 21 हो जाएगी। इनमें से 11 अंबाला बेस पर तैनात है, जो 17 स्क्वॉड्रन का हिस्सा है।

यह भी पढ़ें:-Cyber Crime: अनजान नंबर का वीडियो कॉल रिसीव ना करें, हो सकते हैं ब्लैकमेलिंग का शिकार

जानकारी के अनुसार अगले दो से तीन दिनों में तीन राफेल भारत पहुंच रहे हैं। हवा में फ्यूल भरने की क्षमता रखने वाला राफेल फाइटर जेट सीधे फ्रांस से उड़ान भरकर भारत पहुंच रहे हैं। इसके बाद 7-8 विमान अप्रैल के तीसरे या चौथे सप्ताह में भारत पहुंचेंगे। इनमें ट्रेनर विमान भी शामिल होगा। नए विमान वायुसेना की क्षमता को बढ़ाएंगे।

दूसरे स्क्वाड्रन की प्रक्रिया शुरू

पिछले वर्ष जुलाई-अगस्त म इन विमानों को वायुसेना के बेड़े में शामिल किया गया था। चीन के साथ पूरी लद्दाख में चल रहे गतिरोध के बीच इन्हें क्षेत्र में गश्त लगाने के लिए तैनात किया गया था। फ्रांस से भारत पहुंचने के बाद राफेल विमानों को अंबाला में तैनात किया जाएगा और उनमें से कुछ को बाद में हाशिमारा भेजा जाएगा। जहां दूसरे स्क्वाड्रन की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है।

ये है राफेल की खूबियां

डबल इंजन वाला राफेल लड़ाकू विमान है। राफेल लड़ाकू जेट SNECMA के दो M88-2 इंजन से संचालित होता है। डबल इंजन राफेल जेट ग्राउंड अटैक, सी अटैक, एयर डिफेंस, न्यूक्लियर स्ट्राइक सहित ढेरों खूबियों से लैस है। फाइटर जेट राफेल रेंज मिटियोर एयर टू एयर मिसाइल कैरी करने की क्षमता रखता है। भारत इस जेट से अब पाकिस्तान और चीन को कड़ी टक्कर देने की स्थिति में है। यह हैमर मिसाइल से लैस है।