Infosys के सीईओ को वित्त मंत्रालय ने किया तलब, ये है कारण

जानकारी के अनुसार जनवरी 2021 से जून 2021 के बीच सरकार ने ई फाइलिंग पोर्टल डवलप करने के लिए इनफ़ोसिस को 164.5 करोड़ रुपये का भुगतान किया है। 

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। वित्त मंत्रालय (Finance Ministry) ने इनफ़ोसिस के एमडी एवं सीईओ सलिल पारेख (Infosys MD & CEO Salil Parekh) को तलब किया है।  इनफ़ोसिस प्रमुख को तलब करने की वजह नए आयकर ई फाइलिंग पोर्टल  (Income Tax E-Filing Portal) में गड़बड़ी बताई जा रही है। आधिकारिक इनकम टैक्स इंडिया ट्विटर हैंडिल पर इसकी जानकारी शेयर करते हुए बताया गया है कि पोर्टल 21 अगस्त से पोर्टल उपलब्ध ही नहीं है।

भारत के वित्त मंत्रालय ने इनफ़ोसिस के प्रमुख सलिल पारेख को आज 23 अगस्त को नए आयकर ई फाइलिंग पोर्टल  में गड़बड़ियों को स्पष्ट करने के लिए तलब किया है। ई फाइलिंग पोर्टल (Income Tax E-Filing Portal)जून में लॉन्च हो गया था लेकिन अभी भी ठीक से काम नहीं कर रहा।  केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण  (Union Finance Minister Nirmala Sitharaman) इस पर पहले ही चिंता जता चुकी है।

ये भी पढ़ें – रिपोर्ट: अक्टूबर में आ सकती है तीसरी लहर, पीक पर होगा कोरोना, बच्चों को ज्यादा खतरा

आधिकारिक इनकम टैक्स इंडिया (Income Tax India) ट्विटर हैंडिल ने एक ट्वीट कर जानकारी साझा की है कि वित्त मंत्रालय ने इनफ़ोसिस के एमडी एवं सीईओ सलिल पारेख (Infosys MD & CEO Salil Parekh) को बुलाया है और वित्त मंत्री के सामने गड़बड़ियों को स्पष्ट करने के लिए कहा है। साथ ही कहा गया है कि लॉन्चिंग के ढाई महीने बाद भी ई फाइलिंग पोर्टल (Income Tax E-Filing Portal)में गड़बड़ियों का समाधान क्यों नहीं हुआ।  दरअसल 21 अगस्त से ही पोर्टल उपलब्ध नहीं है।

ये भी पढ़ें – Gold Silver Rate: राखी के बाद सोना हुआ सस्ता, चांदी महंगी, जानिए ताजा भाव

गौरतलब है कि ई फाइलिंग पोर्टल इनफ़ोसिस (Infosys) ने ही डिजाइन किया है जिसके बाद से ही कई दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है इसे उपयोग करने वालों ने दिक्क्तों का स्क्रीन शॉट लेकर कई बात वित्त मंत्री को टैग कर ट्वीट किया है। शिकायतकर्ताओं ने पोर्टल स्लो चलने, लॉग इन में समय लगने, पासवर्ड बदलने, प्रोफ़ाइल अपडेशन जैसे रूटीन और नार्मल कामों में परेशानी का जिक्र किया है।

ये भी पढ़ें – उज्जैन घटना पर बयान देकर घिरे दिग्विजय सिंह, नरोत्तम मिश्रा बोले- नहीं होगी दोबारा जांच

उधर इनफ़ोसिस (Infosys) ने इन परेशानियों को लेकर कहा है कि अभी पोर्टल में मेंटेनन्स चल रहा है।  जानकारी के अनुसार जनवरी 2021 से जून 2021 के बीच सरकार ने ई फाइलिंग पोर्टल डवलप करने के लिए इनफ़ोसिस को 164.5 करोड़ रुपये का भुगतान किया है।  सरकार ने शर्त रखी थी कि पोर्टल ऐसा हो जिससे आयकर फ़ाइल करने वाले को दिक्कत ना हो और यदि पोर्टल में कोई समस्या आये तो उसे तुरंत ठीक किया जाए , लेकिन लॉन्चिंग के बाद से पोर्टल में आ रही परेशानियों को देखते हुए वित्त मंत्रालय ने इनफ़ोसिस के सीईओ और एमडी सलिल पारेख को तलब किया है।