IRCTC : रात में अकेली ट्रेन में कर रहीं हैं सफर, रेलवे की ये सुविधा बनेगी हमसफर

रेलवे सुरक्षा बल (RPF) में महिला स्टाफ की संख्या बढ़ने पर अन्य ट्रेन में भी रात के समय व्यवस्था (स्कार्टिंग) लागू की जाएगी। 

बिलासपुर, डेस्क रिपोर्ट। रात के समय ट्रेन (IRCTC) में अकेले यात्रा करने से अक्सर महिलाएं घबराती हैं, उनके परिजन सुरक्षा कारणों के चलते ऐसा करने से रोकते हैं लेकिन अब किसी भी महिला यात्री को घबराने की जरूरत नहीं है। रेलवे (Indian Railway) ने अब रात के समय रेल में रेलवे सुरक्षा बल (RPF) में महिला सदस्य और अधिकारियों की गश्त की सुविधा शुरू की है। किसी भी तरह की समस्या होने पर महिला यात्री RPF की महिला अधिकारी से बात कर सकती हैं।

रात के समय ट्रेन में  RPF में महिला सदस्यों की गश्त की शुरुआत बिलासपुर रेल मंडल ने अभी दो ट्रेन में शुरू की है। अभी ये सुविधा अमरकंटक एक्सप्रेस और सारनाथ एक्सप्रेस में शुरू की गई है। रेलवे सुरक्षा बल में महिला स्टाफ की संख्या बढ़ने पर अन्य ट्रेन में भी रात के समय व्यवस्था (स्कार्टिंग) लागू की जाएगी।

ये भी पढ़ें – भोपाल-इंदौर से जाने वाली इन ट्रेनों की सेवा बहाल, इनका रूट बदला, कई निरस्त, देखें शेड्यूल

अक्सर देखा गया है कि रात के समय अकेले सफर करने वाली महिला यात्री समस्या होने पर RPF के पुरुष बल को कुछ भी बताने में हिचकिचाती हैं, इसलिए बिलासपुर रेल मंडल ने महिला सुरक्षा और महिलाओं की मदद के मकसद से रात महिला स्टाफ की रात की गश्त शुरू की है।

ये भी पढ़ें – Gold Silver Rate : फिर बढ़ी सोने चांदी की कीमत, खरीदने से पहले देख लें रेट

इस व्यवस्था के तहत अभी RPF का महिला स्टाफ दुर्ग भोपाल अमरकंटक एक्सप्रेस में रात 9 बजे स्कार्टिंग करते हुए अनूपपुर तक जाता है और वहां से दुर्ग छपरा सारनाथ एक्सप्रेस में स्कार्टिंग करते हुए बिलासपुर स्टेशन वापस आता है। बिलासपुर रेल मंडल ट्रेन में महिला बल के अलावा RPF पोस्ट में भी महिलाओं की ड्यूटी लगा रहा है। जिससे किसी भी तरह की परेशानी होने पर महिला यात्री की हरसंभव मदद की जा सके।

ये भी पढ़ें – कर्मचारियों के लिए गुड न्यूज! बकाया DA arrears पर आई नई अपडेट, जानें कब खाते में आएंगे 1.50 लाख?