जीवन बीमा लेने से पहले इन 7 बातों का रखें ध्यान, वरना बाद में पछताओगे

यदि आप पैसों के निवेश को लेकर प्लानिंग कर रहे हैं, तब ध्यान रखें यह सात बातें जो एक निवेशक के तौर्र पर आपको जीवन बीमा लेने में हैं सहायक |

नई दिल्ली डेस्क रिपोर्ट। पैसा कमाने के कई सारे रास्तों में से एक रास्ता प्राइवेट निवेश भी है, जिसमे आप अपनी कमाई के एक हिस्से को सुरक्षित करने के लिए जीवन बीमा जैसी योजनाओं में भी निवेश करते हैं। यदि आप ऐसा करते हैं तो यह पोस्ट आपके लिए है। इसलिए इन सब निवेशों में हमारा टारगेट केवल यही देखने का रहता है, कि भविष्य में यह निवेश आपकी कमाई या निवेश का कितना प्रतिशत मुनाफा कमा कर दे रहा है।

एक निवेशक के रूप में आपके लिए सबसे सुरक्षित उपाय जीवन बीमा में निवेश होता है। हालाँकि लोगापने पैसों को टैक्स से बचाने के लिए कई तरह की जीवन बीमाएं ले लेते है, किन्तु उनमे कुछ सामान्य सी गलतियाँ करते हैं, आईये एक नजर डालते हैं उन गलतियों पर –

बच्चों के नाम पर पालिसी लेना –

यह एक सामान्य सी गलती है, जो कोई भी साधारण व्यक्ति करता ही है, इसमें लम्बे लॉक पिरियड के साथ कुछ गलतियाँ अक्सर पाई जाती हैं, जैसे आपने अपने बच्चे या पोते पोती के नाम पर जीवन बिमा ले लिया लेकिन उसकी कंडीशन पर ध्यान नही दिया, जहाँ कंडीशन में 5 साल का लोक इन पीरियड मेंशन है, अब पाँच साल तक आपको पैसा जमा करना ही है अन्यथा अब तक जमा किया गया आपका पैसा डूब जायेगा, इसके साथ ही कंडीशन यह भी कहती है, कि पैसा तब mature होगा जब आपका बेटा या पोता पोती 90 साल के हो जायेंगे। आपको इन कंडीशन के प्रति सजग रहना चाहिए।

यह भी पढ़े – 100 साल तक के लिए जीवन बीमा, मैच्योरिटी पर 28 लाख का फायदा, जानिए कैसे

निवेश पर भविष्य का घाटा –

यदि अपने 10 साल के लिए दस हजार की कोई पालिसी ली है, जो भविष्य में आपको 2 लाख रुपये तक की राशि देगी, तब सोचने वाली बात है जिस भी ब्याज दर से आप उस राशि को पाएंगे वो दस साल बाद उतनी ही कीमत रखेगा जितना आज दस हजार है।

बीमा लेने की जल्दी क्या है, बाद में भी ले सकते हैं –

यह सामान्य गलती है जो हम अक्सर करते ही हैं, अभी कमाया और अभी उडाया वाली सोच के साथ हम सोचते हैं, कि बीमा तो बुढ़ापे में लेने वाली चीज है। जी नही, यह बुढ़ापे में लेने की नही, अभी ही बुढ़ापे के लिए करने वाला निवेश है।

यह भी पढ़े – LIC IPO : इन्वेस्टर्स ने अभी तक गंवाए 94 हजार करोड़ रूपये, कंपनी की एमकैप वैल्यू 5,06,126 करोड़ पहुंची

प्रीमियम की लागत को कम करने के लिए निवेश की समय अवधी कम कर लेना –

एक अजीब केस अभी हाल ही में आया, कि एक व्यक्ति ने 20 साल तक के लिए होम लोन लिया, अक्सर बैंक loan कवर भी देता है, लेकिन व्यक्ति ने केवल 5 साल के लिए ही insurance कवर लिया, लेकिन बीच में ही उनका देहांत हो गया, और जब तक उनके परिवार को पता चला उनके पालिसी समाप्त हुए लगभग तीन साल गुजर चुके थे ।