Indian Railway : 12 सिंतबर से पटरी पर दौड़ती नजर आएंगी 80 स्पेशल ट्रेनें, यहां देखें पूरी लिस्ट

रेलवे

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना संकटकाल (Corona Era) में थमी ट्रेने अब एक बार फिर पटरी पर दौड़ने के लिए तैयार है। भारतीय रेलवे (Indian Railway) ने बड़ी राहत देते हुए 12 सितंबर से 80 नई विशेष ट्रेनें (Special Trains) चलाने का ऐलान किया है। यात्रियों के लिए रिजर्वेशन  की सुविधा 10 सितंबर खोली जाएंगी। खास बात है कि ये ट्रेनें अभी चल रही 230 ट्रेनों के अलावा होंगी । हालांकि लोगों की परेशानियों को देखते हुए इन नई स्पेशल ट्रेनों से पहले भारतीय रेलवे 230 IRCTC स्पेशल ट्रेनों को चलाया था और मई में IRCTC स्पेशल ट्रेनों को पहली बार शुरू किया था।

12 सितंबर से दिल्ली से गोरखपुर चलने वाली हमसफर एक्सप्रेस, कोटा से देहरादून चलने वाली नंदा देवी एक्सप्रेस, दिल्ली से भागलपुर जाने वाली विक्रमशिला एक्सप्रेस, लखनऊ-दिल्ली शताब्दी एक्सप्रेस, वाराणसी-नई दिल्ली वंदे भारत एक्सप्रेस, मैसूर-सोलापुर गोल गुंबज एक्सप्रेस समेत कई ट्रेने फिर पटरी पर दौडती नजर आएंगी।

क्लोन ट्रेन भी चलाएंगे-वीके यादव
रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष वीके यादव (Railway Board Chairman VK Yadav) ने जानकारी देते हुए कहा कि भारतीय रेलवे इन स्पेशल ट्रेनों की निगरानी कर रहा हैं और जब भी ट्रेन के लिए डिमांड होती है या वेटिंग लिस्ट लंबी होती है, तो क्लोन ट्रेन चलाएंगे। अगर क्लोन ट्रेनों का कॉन्सेप्ट सफल रहता है तो इसे एक बार रेगुलर पैसेंजर ट्रेन सेवाओं के दोबारा शुरू होने पर इस्तेमाल किया जा सकता है। इसका लक्ष्य वेटिंग लिस्ट में पंक्ति को कम करना और आखिर में वेटिंग लिस्ट को डिमांड पर ट्रेनों की मदद से खत्म करना है।

15 दिसंबर से 1.40 लाख पदों पर भर्ती

यादव ने यह भी घोषणा की कि रेलवे 15 दिसंबर से तीन श्रेणियों में 1.40 लाख पदों के लिए भर्ती प्रक्रिया शुरू करेगा। COVID-19 के कारण परीक्षा आयोजित नहीं की जा सकी क्योंकि कंप्यूटर आधारित परीक्षा होनी थी। उन्होंने कहा, हमने 1,40,640 पदों के लिए विभिन्न श्रेणियों में भर्ती के लिए आवेदन आमंत्रित किए थे। कोरोना से पहले इन्हें अधिसूचित किया गया था। इन आवेदनों की जांच पूरी हो गई थी, लेकिन कोरोना वायरस महामारी के कारण कंप्यूटर आधारित परीक्षा पूरी नहीं हो सकी। बहुत जल्द घोषणा की जाएगी।

बता दे कि देश में बढ़ते कोरोना वायरस को देखते हुए रेलवे ने 22 मार्च से पैसेंजर ट्रेनों, मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया था। हालांकि लोगों की परेशानियों को देखते हुए और एक राज्य से दूसरे राज्य जाने के लिए लॉकडाउन के बीच 12 मई से राजधानी स्पेशल ट्रेनें शुरू की गईं और फिर 1 जून से 100 जोड़ी और ट्रेनों को चलाया गया। इस तरह अभी 230 ट्रेनों का परिचालन किया जा रहा है।

MP Breaking News MP Breaking News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here