नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट| देश की राजधानी में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) की भयावह स्थिति के बाद लॉकडाउन (Lockdown) को लेकर चर्चाएं तेज हो चुकी हैं। इस बीच मुख्‍यमंत्री अरविन्द केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने मंगलवार को प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में लॉकडाउन के संकेत दिए हैं। उन्होंने कहा है कि अगर जरूरत पड़ी तो दिल्ली सरकार उन बाजारों को कुछ दिन के लिए बंद कर सकती है जहां नियमों का पालन नहीं हो रहा है और वो कोविड-19 के स्थानीय हॉटस्पॉट बनते जा रहे हैं|

दिल्‍ली सरकार ने एक प्रस्‍ताव केंद्र सरकार को भेजा है जिसमें छोटे स्‍तर पर लॉकडाउन की इजाजत मांगी गई है। अगर केंद्र इजाजत देती है तो ज्‍यादा संक्रमण वाले इलाकों में लॉकडाउन लगाया जा सकता है। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि उन्होंने केंद्र सरकार को सिफारिश भेज दी है कि लोकल स्तर पर लॉकडाउन लगाने की अनुमति दी जाए| इसके अलावा शादियों में फिर से 200 लोगों की जगह केवल 50 लोगों को आने की मंजूरी दी जाए ये प्रस्ताव भी एलजी को भेजा गया है|

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिवाली के समय कुछ बाजारों में लोगों ने कोविड प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया जिसकी वजह से कोरोना तेजी से फैला है| हमने इसे लेकर केंद्र सरकार को प्रस्ताव को भेजा है कि अगर मामले बढ़ते हैं और कोई बाजार लोकल कोरोना हॉटस्पॉट बन सकता है तो उसे बंद किया जाए|

गौरतलब है कि गौरतलब है कि दिल्ली में अब तक कोरोना के 4,89,202 लाख केस आ चुके हैं और कुल एक्टिव केस 40,128 हैं| दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 99 लोगों की मौत हुई है, जो महाराष्ट्र से ज्यादा है नवंबर में ही कोरोना से दिल्ली में अब तक 1100 से ज्यादा लोग अपनी जान गंवा चुके हैं|