प्रियंका की एंट्री पर बोली ताई- आखिर राहुल ने मान ही लिया वे अकेले राजनीति नही कर सकते

lok-sabha-speker-sumitra-mahajan-says-rahul-can-not-do-politics-alone

नई दिल्ली।

 प्रियंका गांधी की राजनीति में एंट्री के बाद ना सिर्फ राजनैतिक गलियाओं में बल्कि बीजेपी में हलचल मच गई है।भाजपा प्रवक्ता  संबित पात्रा और एमपी के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बाद इंदौर सांसद और लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। महाजन ने प्रियंका के राजनीति में सक्रिय होने पर चुटकी ली है। महाजन ने कहा है कि आखिरकार राहुल ने मान ही लिया कि वो अकेले राजनीति नहीं कर सकते, इसलिए प्रियंका की मदद ले रहे है।

दरअसल, प्रियंका गांधी वाड्रा की सियासत में एंट्री के बाद से ही प्रतिक्रियाओं का दौर जारी है। इस मुद्दे पर अब लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने अपनी राय रखी है। प्रियंका गांधी वाड्रा को कांग्रेस  का महासचिव और पूर्वांचल का प्रभारी बनाए जाने पर उन्होंने कहा कि वह अच्छी महिला हैं और राहुल जी ने भी मन लिया है कि वह अकेले राजनीति नहीं कर सकते इसलिए वह प्रियंका की मदद ले रहे हैं। यह अच्छी बात है।

इससे पहले भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने प्रियंका को पूर्वांचल का प्रभारी बनाए जाने को परिवाद का राज्याभिषेक बताया था। उन्होंने कहा था कि यह राहुल गांधी की नाकामी की सार्वजनिक घोषणा है। नए भारत में आखिर कबतक परिवारवाद चलेगा? हमारे लिए पार्टी ही परिवार है जबकि उनके लिए परिवार ही पार्टी है।वही मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा था कि एक ही परिवार के लोग मिलकर सत्ता चला रहे है।

गौरतलब है कि राहुल गांधी ने बुधवार को अपनी बहन प्रियंका को कांग्रेस का महासचिव बनाने की घोषणा की। इसके साथ ही प्रियंका को पूर्वी उत्तर प्रदेश में संगठन को मजबूत करने की जिम्मेदारी भी दी गई है। प्रियंका को अहम जिम्मेदारी सौंपने के बाद राहुल ने अपने इरादे भी जाहिर कर दिए। उन्होंने बुधवार को कहा, ‘अब हम बैकफुट पर नहीं, फ्रंटफुट पर खेलेंगे और कांग्रेस की विचारधारा को बरकरार रखेंगे। इस फैसले से भाजपा के लोग घबराए हैं।’