Mann ki baat: “दवाई भी, कड़ाई भी” -पीएम मोदी, जानिए आज के ‘मन की बात’ की पूरी डीटेल्स

भारत (india) में पहली बार इस शब्द जनता कर्फ्यू का ज़िक्र हुआ और विश्व भर के लिए अचरज बन गया। कोरोना की बात करते हुए उन्होंने 'दवाई भी- कड़ाई भी' के मंत्र को कोरोना से लड़ाई का ज़रिया बताया।

mann ki baat

नई दिल्ली,डेस्क रिपोर्ट। प्रधानमंत्री (prime minister) के मासिक रेडियो कार्यक्रम (monthly radio program) ‘मन की बात’ (mann ki baat) में आज प्रमुख रूप से कोरोना (corona) चर्चा का विषय रहा। आज के कार्यक्रम में पीएम मोदी ने पिछले साल से लेकर अब तक हुई कोरोना संबंधित घटनाओं और गतिविधियों को याद किया। इसमें उन्होंने पिछले साल इसी माह में लगे जनता कर्फ्यू (janta curfew) से लेकर भारत में शुरू हुए कोरोना वैक्सिनेशन (corona vaccination) तक बात की। उन्होंने कहा कि भारत (india) में पहली बार इस शब्द जनता कर्फ्यू का ज़िक्र हुआ और विश्व भर के लिए अचरज बन गया। कोरोना की बात करते हुए उन्होंने ‘दवाई भी- कड़ाई भी’ के मंत्र को कोरोना से लड़ाई का ज़रिया बताया।

जानिए पीएम मोदी के आज के मन की बात:

* पिछले वर्ष इसी माह में जनता कर्फ्यू लगाया गया था। और भारतवासियों ने अनुशासन की अनूठी मिसाल कायम करते हुए जनता कर्फ्यू को विश्व भर के लिए अचरज का विषय बना दिया था। ये बात आने वाली पीढियां भी नहीं भुला सकेंगी।

* कोरोना योद्धाओं के सम्मान में किये गए हर एक कार्य,थाली, ताली, दिया जलाना आदि ने बेशक ही कोरोना योद्धाओं में ऊर्जा का संचार किया था। यही कारण है कि साल भर से ज़्यादा होने को है और ये लोग पूरी तत्परता से अपने कार्य में लगे हुए हैं।

* भारतीय विश्व मे कहीं जाते हैं तो अपने देश के योग,आयुर्वेद, दर्शन आदि को लेकर गौरवान्वित महसूस करते हैं। इसलिए हमें नया तो पाना है लेकिन पुराना गवाना नहीं हैं। अपनी सांस्कृतिक धरोहर को निश्चय की अगली पीढ़ी तक पहुंचाना है।

यह भी पढ़ें… शिवराज के मंत्री के क्षेत्र में घरों में घुसा सीवर का पानी, गंदे पानी में Congress धरने पर

* भारत मे पर्यटन की उन्नति के दृष्टिकोण से लाइट हाउस पर्यटन को बढ़ावा दिया जाएगा। लाइट हाउस हमेशा से आकर्षण का केन्द्र रहे हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए भारत मे 71 लाइट हाउस की पहचान हुई है। इन सब पर आवाश्यकता अनुसार काम किया जाएगा।

* बीते दिनों में मनाए गए गौरैया दिवस पर हमने गौरैया संरक्षण पर ज़ोर दिया था। इसका कारण है इन चिड़ियों का लुप्त होना।

* पिछले साल इन्हीं दिनों के दौरान हम कोरोना के टीके का बेसब्री से इंतज़ार कर रहे थे। और आज भारत मे विश्व का सबसे बड़ा वैक्सिनेशन प्रोग्राम चल रहा है।

* देश की बेटियां हर क्षेत्र में परचम लहरा रहीं हैं। सबसे अच्छी बात है कि अब बेटियां खेलों में भी दिलचस्पी दिखाने लगीं हैं। हाल ही में भारतीय क्रिकेट टीम की मिताली अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 10,000 रन बनाने वाली पहली भारतीय महिला क्रिकेटर बनीं। इसके लिए उन्हें बहुत-बहुत बधाई।