Modi government 3.0 : गठन से पहले मोदी सरकार के तीसरे टर्म से उम्मीदें, उद्योगपति हर्ष गोयनका ने PM Modi से रखीं 10 डिमांड

Harsh Goenka PM Modi

Modi government 3.0 : लोकसभा चुनाव 2024 का परिणाम कल 4 जून को आएगा, कल मंगलवार सुबह 8 बजे से पूरे देश में एक साथ मतगणना शुरू होगी और फिर स्पष्ट हो जायेगा कि मोदी सरकार अपने तीसरे टर्म में प्रवेश करेगी या फिर इंडी गठबंधन की सरकार बनेगी, नेताओं और पार्टियों के अपने अपने दावे हैं लेकिन देश के उद्योगपति ये मान रहे हैं कि नरेंद्र मोदी तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने जा रहे हैं इसीलिए उद्योगपति हर्ष गोयनका ने मोदी सरकार 3.0 से उसके गठन से पहले ही 10 डिमांड रख दी हैं।

पार्टियों के अपने अपने दावे  

भारतीय जनता पार्टी ने चुनवों से पहले अपनी पार्टी के लिए 370 से अधिक सीटें जीतने का लक्ष्य निर्धारित किया और एनडीए के लिए 400 पार का लक्ष्य दिया और कार्यकर्ताओं में ये नारा देकर उत्साह पैदा किया, विपक्षी पार्टियों का इंडी गठबंधन हालाँकि कोई बिना कोई आंकड़ा बनाये सरकार बनाने का दावा करता रहा लेकिन अब चुनाव परिणाम से दो दिन पहले गठबंधन की पार्टियों बैठक के बाद गठबंधन के लिए 295 सीटों का आंकड़ा देकर सरकार बनाने का दावा कर दिया।

एग्जिट पोल ने बना दी पूर्ण बहुमत वाली मोदी सरकार 

एग्जिट पोल जो अब तक सामने आये उनमें लगभग सभी ने मोदी सरकार बनने दिखाई है कुछ ने एनडीए को 400 के आसपास दिखाया है लेकिन अधिकांश ने भाजपा के नेतृत्व वाली पूर्ण बहुमत की सरकार बनते दिखाई है हालाँकि गठबंधन ने एग्जिट पोल को नकार दिया और इसे मैनेज्ड कह दिया है, बहरहाल अंतिम परिणाम कल 4 जून को सामने आ जायेगा लेकिन इस बीच उद्योगपति हर्ष गोयनका ने मोदी सरकार के तीसरे टर्म से उसके गठन से पहले ही डिमांड रख दी है।

उद्योपति हर्ष गोयनका ने मोदी सरकार के तीसरे टर्म से कर दी ये डिमांड  

RPG इंटर प्राइजेज के चेयरमेन हर्ष गोयनका (Harsh Goenka) ने लिखा – मुझे पीएम मोदी के तीसरे कार्यकाल से ये  उम्मीदें हैं-

1. एक राष्ट्र एक चुनाव
2. समान नागरिक संहिता
3. कृषि सुधार
4. बुनियादी ढांचे और विनिर्माण के माध्यम से अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के निरंतर प्रयास
5. डिजिटलीकरण को और आगे बढ़ाएं
6. स्वास्थ्य सेवा और शिक्षा का विस्तार करें
7. रोजगार सृजन प्राथमिकता
8. श्रम सुधार
9. ऊर्जा और जलवायु में अधिक निवेश
10. भारत की वैश्विक छवि को और बढ़ाना


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ....पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....