देश के नए सेना प्रमुख बने जनरल मुकुंद नरवाणे, रावत कल संभालेंगे CDS की जिम्मेदारी

नई दिल्ली।

बिपिन रावत आज सेना प्रमुख के पद से रिटायर हो गए हैं, अपने कार्यकाल के आखिरी दिन उन्होंने वॉर मेमोरियल पर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। इसके अलावा साउथ ब्लॉक पर गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया।  जनरल बिपिन रावत कल यानी एक जनवरी से चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) पद की जिम्मेदारी संभालेंगे। जनरल बिपिन रावत को देश के पहले सीडीएस होंगे। सीडीएस की नियुक्ति तीनों सेनाओं के बीच बेहतरीन समन्वय के लिए की गई है।

 इससे पहले बिपिन रावत ने सभी जवानों को शुभकामनाएं दीं।सेनाध्यक्ष जनरल बिपिन रावत को देश का पहला चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) बनने पर अमेरिका ने बधाई दी है।वही  जनरल मनोज मुकुंद नरवाणे ने नए सेना प्रमुख पद की जिम्मेदारी संभाल ली है। वह देश के 28वें सेना प्रमुख बन गए हैं। उन्होंने जनरल बिपिन रावत की जगह ली। लेफ्टिनेंट जनरल नरवाने वर्तमान में सेना के उप प्रमुख हैं। नरवाने 31 दिसंबर को 13 लाख की क्षमता वाली भारतीय थलसेना के सेनाध्यक्ष के रूप में कमान संभालेंगे। 

मनोज मुकुंद नरवाने की नियुक्ति के साथ ही तीनों सेनाओं के प्रमुख एनडीए के बैचमेट हो जाएंगे। मनोज मुकुंद नरवाने, एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया और नौसेना अध्यक्ष करमबीर सिंह ने 1976 में नेशनल डिफेंस एकेडमी (एनडीए) से  56वां कोर्स एक साथ किया था। भारतीय सेना के इतिहास में यह दूसरी बार है, जब तीनों सेनाओं के प्रमुख एनडीए के एक ही बैच के कैडेट होंगे।