National Simplicity Day 2022 : आज है राष्ट्रीय सादगी दिवस, इस तरह जीवन को बनाएं सरल

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। आज राष्ट्रीय सादगी दिवस (National Simplicity Day) है। अमेरिकी लेखक और दार्शनिक, इतिहासकार हेनरी डेविड थोरो (Henry David Thoreau) का आज जन्मदिन है और उन्ही की याद में ये दिन समर्पित है। अमेरिका में इस दिन खास तौर पर उनकी स्मृति में आयोजन होते हैं और जीवन में सादगी को समाहित करने की कोशिश की जाती है।

भारत में सादगी हमेशा से एक जीवन पद्धति रही है। हमारे यहां सादा जीवन उच्च विचार का दर्शन है। यही बात अमेरिकी लेखक और दार्शनिक हेनरी डेविड थोरो ने भी कही है। जबसे दुनिया में कोरोना संकट आया है, लोग इस बात का महत्व और समझ गए हैं। जीवन की रफ्तार पर ब्रेक लगा तो हमें समझ आया कि व्यर्थ की जटिलताएं और तनाव हमें कितना कृत्रिम बना देते हैं। इसीलिए सिंपल लाइफ सबसे सही तरीका है जीवन को बरतने का। हम जितने प्रकृति और स्वयं के करीब जाएंगे, जीवन उतना ही सादा और सुंदर होता जाएगा।

हालांकि इस समय में अपने जीवन से सारी आपाधापी और शोरशराबे को दूर करना संभव नहीं, फिर भी कुछ तरीके हैं जिनसे हम सादगीपूर्ण दिनचर्या अपना सकते हैं। जितना संभव हो मोबाइल, लैपटाप से दूरी बनाकर रखें। सोशल मीडिया पर कम और असल जीवन के दोस्तों रिश्तेदारों के साथ अधिक समय बिताएं। मशीनों पर निर्भरता जितनी कम होगी, जीवन उतना ही सरल होगा। अपने खानपान की आदतों में भी परिवर्तन कर ऑर्गेनिक फूड और घर के बने भोजन की आदत डालें। गुस्सा, तनाव, चिड़चिड़ाहट को दूर करने के लिए योग या ध्यान का मार्ग अपनाएं। विकास के नाम पर प्रकृति के साथ लगातार हो रही छेड़छाड़ को बंद करना जरूरी है। हमें कांक्रीट के नहीं असल जंगलों की आवश्यकता है। अपनी आदतों में विनम्रता, सहिष्णुता, उदारता, और समभाव को सम्मिलित करें। जैसे जैसे हम इन जीवन मूल्यों को अपनाएंगे..हमारा जीवन स्वत: सरल और सादा होता जाएगा। तो इस सादगी दिवस पर आईये संकल्प लें कि खुद को बाहर भीतर से निर्मल करेंगे और एक सादगीपूर्ण जीवन की ओर बढ़ेंगे।