केंद्रीय मंत्री के भतीजे ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, घरेलू विवाद से था परेशान

Union Minister Nephew Committed Suicide : केंद्रीय राज्यमंत्री कौशल किशोर के भतीजे नंदकिशोर रावत ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। लखनऊ के दुबग्गा इलाके के बिगरिया में उन्होने अपने घर में फांसी लगा ली। इससे पहले साल 2021 में भी मंत्री और लखनऊ से सांसदम कौशल किशोर पारिवारक कारणों से चर्चाओं में आए थे, जब उनकी बहू ने हाथ की नस काटकर खुदकुशी की कोशिश की थी। हाल ही में उन्होने श्रद्धा वॉल्कर केस में बयान दिया था जिसपर काफी विवाद हुआ था। उन्होने लिव-इन रिलेशनशिप को गलत बताते हुए लड़कियों को इससे दूर रहने की नसीहत दी थी।

मृतक ने की थी दो शादियां

पुलिस ने बताया कि नंदकिशोर के भाई ने उन्हें फंदे पर लटकते देखा और पुलिस को इसकी सूचना दी। तुरंत उन्हें अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। फिलहाल उनके ऐसा घातक कदम उठाने के पीछे की वजह पता नहीं चली है और पुलिस मामले की जांच कर रही है। लेकिन उनकी निजी जिंदगी को लेकर जो खुलासे हुए हैं वो चौंकाने वाले हैं। जानकारी के मुताबिक नंदकिशोर ने दो शादियां की थी। पहली पत्नी का नाम पूजा है और दूसरी शादी उसने एक मुस्लिम युवती से की जिसका नाम शकीला बताया जा रहा है।

घरेलू कलह से परेशान

इन दोनों पत्नी से उनकी संतानें हैं। पूजा और नंदकिशोर के चार बच्चे हैं वहीं शकीला से शादी के बाद उनके दो बच्चे हुए। दोनों ही पत्नी के साथ अक्सर उनका विवाद होता रहता था। ये भी बताया जा रहा है कि नंदकिशोर अक्सर ही दोनों पत्नियों से हुए बच्चों के नाम पर संपत्ति खरीदता रहता था। लेकिन ऐसा होने पर भी गृहक्लेश होता था। जिसनके नाम पर प्रॉपर्टी ली है वो तो खुश हो जाता, लेकिन दूसरी पत्नी और बच्चे इससे नाराज हो उठते। धीरे धीरे ये कलह बढ़ने लगा था। जानने वाले भी बताते हैं कि वो अक्सर ही इस कारण से परेशान रहता था। अब उसकी आत्महत्या के बाद ये सारी बातें भी सामने आ रही है। आत्महत्या की वजह तो जांच के बाद ही पता चलेगी लेकिन पारिवारिक कलह भी एक वजह हो सकती है इससे इंकार नहीं किया जा सकता।