कर्मचारियों के लिए नई अपडेट, जल्द खाते में आएगी 40000 से 81000 रुपए तक राशि, मिलेंगे कई लाभ

अगर किसी कर्मचारी के खाते में एक लाख रुपये हैं तो ब्याज की रकम 8,100 रुपये आएगी।अगर आपके खाते में 10 लाख रुपये पड़े हैं तो 81,000 रुपये और 5 लाख रुपये जमा हैं तो 40 हजार रुपये का ब्याज ट्रांसफर किया जा सकता है।

employee news
demo pic

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (Employee Provident Fund Organization) के कर्मचारियों-खाता धारकों (PF Account Holder) के लिए अच्छी खबर है। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (Epfo) ने वित्त वर्ष 2022 में पीएफ खाते में मिलने वाले ब्याज की गणना कर ली है। संभावना जताई जा रही है कि दिवाली के बाद करीब 6 करोड़ खाताधारकों के खाते में ब्याज का पैसा ट्रांसफर किया जा सकता है।  इस बार सरकार के खाते में जमा कुल 72,000 करोड़ रुपये नौकरिपेशाओं के खाते में भेजा जाएगा वित्तीय साल 2020-21 के लिए 8.1 फीसदी ब्याज दर तय की गई है।

MP Weather: नए सिस्टम से बदला मौसम, 6 संभागों में बारिश-बिजली गिरने की चेतावनी, येलो अलर्ट, जानें अपने जिले का हाल

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) के 6 करोड़ से ज्यादा कर्मचारियों (PF Account Holder) का पीएफ खातों में वित्त वर्ष 2022 में मिलने वाले ब्याज के पैसा का इंतजार जल्द खत्म होने वाला है। EPFO के सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टी (CBT Meeting ) द्वारा फिस्कल ईयर 2021-2022 के लिए ब्याज दर 8.1% तय किया गया, जिस पर वित्त मंत्रालय ने भी सहमति दे दी है। अब EPFO कर्मचारियों के खातों में ब्याज की रकम भेजने की तैयारी है, इसके लिए ब्याज की गणना कर ली गई है जल्द ही खाताधारकों के खाते में इसे ट्रांसफर कर दिया जाएगा। इस बार सरकार के खाते में जमा कुल 72,000 करोड़ रुपये नौकरिपेशाओं के खाते में भेजा जाएगा।

यह भी पढ़े..किसानों को CM का बड़ा तोहफा, गन्ने की कीमतों में वृद्धि, जानें नया रेट, बकाया का भी होगा भुगतान

माना जा रहा है कि अगर किसी कर्मचारी के खाते में एक लाख रुपये हैं तो ब्याज की रकम 8,100 रुपये आएगी।अगर आपके खाते में 10 लाख रुपये पड़े हैं तो 81,000 रुपये और 5 लाख रुपये जमा हैं तो 40 हजार रुपये का ब्याज ट्रांसफर किया जा सकता है।अगर किसी उपभोक्ता के खाते में 7 लाख रुपये हैं तो उसे 56,700 रुपये मिलेंगी। इस तरह से अलग अलग खातों में अलग अलग राशि ट्रांसफर होगी।हालांकि 40 साल में यह पहला मौका होगा जब 6 करोड़ से अधिक कर्मचारियों को पीएफ पर इतना कम ब्याज मिलेगा।

2013 से 2022 की ब्याज दर

2021-22 में ब्याज— 8.1 प्रतिशत
2020-21 में ब्याज— 8.5 प्रतिशत
2018-19 में ब्याज— 8.65 प्रतिशत
2017-18 में ब्याज— 8.65 प्रतिशत
2016-17 में ब्याज— 8.65 प्रतिशत
2015-16 में ब्याज— 8.80 प्रतिशत
2014-15 में ब्याज— 8.75 प्रतिशत
2013-14 में ब्याज— 8.75 प्रतिशत

इन तरीकों से चेक करें बैलेंस

  • अपने मोबाइल में प्ले स्टोर के जरिए Umang App डाउनलोड करें। अपने फोन नंबर को रजिस्टर करें और ऐ में खोलें।टॉप लेफ्ट कॉर्नर में दिए गए मेन्यू में जाकर ‘Service Directory’ में जाएं।
  • यहां EPFO विकल्प को सर्च करके क्लिक करें।यहां View Passbook में जाने के बाद अपने UAN नंबर और OTP के जरिए बैलेंस देख लें।EPFO की वेबसाइट पर लॉग इन कर ई-पासबुक पर क्लिक करें। ई-पासबुक पर क्लिक करने पर एक नए पेज पर आ जाएंगे।
  • जहां आपको अपना यूजर नाम (UAN नंबर), पासवर्ड और कैप्चा भरना होगा और फिर नया पेज खुलेगा और यहां मेंबर आईडी का चुनाव करना होगायहां ई-पासबुक पर अपना ईपीएफ बैलेंस मिल जाएगा।
  • इसके अलावा आप SMS के जरिए भी अपने पीएफ खाते का बैलेंस चेक कर सकते हैं, लेकिन इसके लिए आपका मोबाइल नंबर EPFO के साथ रजिस्टर्ड होना चाहिए।
  • ईपीएफओ में रजिस्टर्ड अपने मोबाइल नंबर से 7738299899 पर EPFO UAN LAN भेजना होगा है। LAN का मतलब आपकी भाषा से हैं।
  • अगर आपको अंग्रेजी में जानकारी चाहिए तो LAN की जगह ENG लिखना होगा। इसी तरह हिंदी के लिए HIN और तमिल के लिए TAM लिखना है।
  • हिंदी में जानकारी पाने के लिए EPFOHO UAN HIN लिखकर मैसेज करना पड़ता है।

बिना PPO नंबर के नही मिलेगी पेंशन

बता दे कि कर्मचारी के रिटायर होने के बाद उन्हें ईपीएफओ द्वारा 12 डिजिट का एक पीपीओ नंबर जारी किया जाता है और इसी के जरिए वो हर महीने पेंशन पाते है। ये एक तरह का रेफरेंस नंबर होता है और इसके जरिए कई तरह के लाभ लिए जा सकते हैं। सेंट्रल पेंशन अकाउंटिंग ऑफिस से संवाद के लिए भी इसी PPO नंबर का उपयोग होता है तो इसे संभालकर रखना जरूरी होता है।EPFO नए नियम के तहत किसी भी पेंशन धारक के लिए पेंशन का स्टेटस जानने के लिए पीपीओ नंबर (PPO Number) अनिवार्य है, इसके बिना पेंशन को नहीं निकाला जा सकता है।