कर्मचारियों को नए साल का तोहफा, कैबिनेट की मंजूरी, मानदेय में 3000 रुपए की वृद्धि, सालाना खाते में बढ़कर आएंगे 36000 रुपए

Employees Honorarium Hike : राज्य सरकार द्वारा कर्मचारियों को नए साल और क्रिसमस का तोहफा दिया गया है। दरअसल उनके मानदेय में वृद्धि की गई है। कैबिनेट की बैठक में मानदेय को 3000 रूपए तक बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। जिसके साथ ही अब कर्मचारियों के मानदेय 6000 रूपए से बढ़कर 9000 रूपए हो गए हैं।

विशेष न्यायिक मजिस्ट्रेट के मानदेय में वृद्धि 

दरअसल योगी सरकार द्वारा विशेष न्यायिक मजिस्ट्रेट के मानदेय में वृद्धि की गई है। कैबिनेट की बैठक में इस पर निर्णय लिया गया है। विशेष न्यायिक मजिस्ट्रेट के माध्यम से 6000 से बढ़कर 9000 रूपए प्रति माह होंगे।वहीं अब सालाना उन्हें 1 लाख 8 हजार रुपए उपलब्ध कराए जाएंगे। जिसके साथ ही 36000 रुपए तक की राशि उनके खाते में सालाना बढ़ेगी।

रीडर के भी मानदेय में वृद्धि

इसके अलावा कैबिनेट की बैठक में विशेष न्यायिक मजिस्ट्रेट कार्यालय के रीडर के भी मानदेय में वृद्धि की गई है। उनके मानदेय को 2250 रुपए प्रति महीने की दर से बढ़ाया गया है। इसके साथ ही डर के मानदेय 4500 से बढ़कर ₹6750 रुपए प्रति माह हो गए हैं।

अनुसेवकों के मानदेय में 1500 रुपए की वृद्धि

इसके अलावा अनुसेवकों को अब 100 की वजह 150 प्रतिदिन की दर से उपलब्ध कराया जाना है। इसके लिए प्रस्ताव को वित्त विभाग की मंजूरी प्रदान की गई है। प्रति महीने 1500 रुपए की वृद्धि के साथ ही है। उन्हें हर महीने 4500 रूपए का लाभ मिलेगा।

इसके अलावा कैबिनेट में भी कई प्रस्ताव को मंजूरी दी गई है। जिसमें महाधिवक्ता कार्यालय में पदों की भर्ती अब लोक सेवा आयोग और अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के जरिए ही आयोजित की जाएगी। इसके साथ कई अन्य प्रस्ताव पर भी मुहर लगी है।