3.52 लाख शिक्षकों को सौगात, 586 करोड़ रुपए जारी, फरवरी में बढ़कर आएगी सैलरी

राज्य सरकार (state Government) ने समग्र शिक्षा अभियान के तहत 586 करोड़ 41 लाख 39 हजार रुपये की स्वीकृति देते हुए इसे जारी करने का आदेश दिया है।

pension

पटना, डेस्क रिपोर्ट। बिहार की नीतिश कुमार सरकार (Bihar Nitish Kumar Government) ने 3.52 लाख शिक्षकों को नए साल का तोहफा दिया है।बिहार सरकार ने शिक्षकों के वेतन में 15 प्रतिशत वृद्धि के लिए समग्र शिक्षा अभियान के तहत 586 करोड़ 41 लाख 39 हजार रुपये जारी किए है।इस वेतन वृद्धि के बाद किसी भी नियोजित शिक्षक के कम से कम 2500 रुपये से बढ़कर 4500 रुपये बढ़ने की संभावना है। यह 1 अप्रैल, 2021 से लागू होगा। संभावना है कि फरवरी में बढ़ी हुई सैलरी का लाभ दिया जा सकता है।

यह भी पढ़े.. MP Government Jobs 2022: इन पदों पर निकली भर्ती, 30 जनवरी से आवेदन, जानें आयु-पात्रता

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक,  बीते साल बिहार सरकार ने प्राथमिक विद्यालयों (Primary schools) के सभी वर्गों में कार्यरत 3.5 लाख शिक्षकों और पुस्तकालयाध्यक्षों को माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालयों में वेतन वृद्धि (increment) का ऐलान किया था।इसी के तहत शनिवार को राज्य सरकार (Bihar Government) ने समग्र शिक्षा अभियान के तहत 586 करोड़ 41 लाख 39 हजार रुपये की स्वीकृति देते हुए इसे जारी करने का आदेश दिया है। इस राशि से 3.52 लाख शिक्षकों और पुस्तकालयाध्यक्षों को 15 प्रतिशत बढ़ा वेतनमान के साथ भुगतान होगा।

यह भी पढ़े.. MP News: 5 शहरों के लिए ये प्रस्ताव तैयार, 5 हजार करोड़ होंगे व्यय, पोर्टल पर लोड होगी रिपोर्ट

बता दे कि बीते दिनों स्कूल शिक्षा मंत्री (Bihar School Education Minister) ने कहा था कि बिहार के 3.52 नियोजित शिक्षकों को वेतन में 15 प्रतिशत बढ़ोतरी के साथ फरवरी 2022 में भुगतान किया जाएगा।इस वेतनमान के साथ दिसंबर माह के वेतन का भी भुगतान करने के निर्देश दिए गए है।इस वेतन वृद्धि का लाभ 1 अप्रैल, 2021 से शिक्षकों और पुस्तकालयाध्यक्षों को मिलेगा। शिक्षकों को भी अप्रैल 2021 से अब तक का बकाया मिलेगा। नियोजित शिक्षकों के वेतन में वृद्धि से सरकार को हर साल लगभग 1950 करोड़ रुपये अधिक खर्च करने होंगे।

3.52 लाख शिक्षकों को सौगात, 586 करोड़ रुपए जारी, फरवरी में बढ़कर आएगी सैलरी