Petrol Diesel Price: अब इस राज्य में VAT कम करने की तैयारी, पेट्रोल-डीजल की कीमतों से मिलेगी राहत

रायपुर में पेट्रोल की कीमत 101.88 रू और डीजल की कीमत 93.78 रू प्रति लीटर है जो मध्य प्रदेश की तुलना में लगभग ढाई रुपए डीजल प्रति लीटर ज्यादा है।

Petrol Diesel Price

रायपुर, डेस्क रिपोर्ट। केंद्र सरकार द्वारा एक्साइज ड्यूटी में की गई कमी के चलते पेट्रोल और डीजल की कीमतों (Petrol Diesel Price) में काफी राहत मिली है। इसके साथ ही कई राज्यों ने वैट में कमी करके भी लोगों को राहत दी है। अब छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh government) में भी वैट कम करने की तैयारी शुरू हो गई है।

यह भी पढ़े.. MP School: निजी स्कूलों द्वारा 15 नवंबर तक पूरा होगा ये काम, इन छात्रों को नहीं मिलेगा मौका

दरअसल, दीपावली के ठीक एक दिन पहले पेट्रोल पर 5 रू और डीजल पर 10 रू एक्साइज ड्यूटी मे कमी कर मोदी सरकार ने लोगों को बड़ी राहत दी थी और पेट्रोलियम विभाग ने राज्य सरकारों से भी वैट में कमी करने का आग्रह किया था जिसके बाद विभिन्न प्रदेशों में पेट्रोल और डीजल पर वैट कम करना शुरू कर दिया गया। लेकिन अब तक किसी भी कांग्रेस शासित प्रदेश में वैट में कमी नहीं की गई है जिसे लेकर विपक्षी दल भी कांग्रेसी सरकारों पर निशाना साध रहे हैं, जिसके बाद अब छत्तीसगढ़ राज्य में वैट कम करने की तैयारी है।

इसको लेकर वाणिज्य कर मंत्री टीएस सिंह देव (Commerce Tax Minister TS Singh Deo) ने भी संकेत दिए हैं। उनका कहना है कि हमने अलग-अलग राज्यों के टैक्स स्ट्रक्चर की जानकारी मंगाई है और इसकी समीक्षा की जा रही है। सिंह देव का कहना है कि जब से केंद्र सरकार ने एक्साइज ड्यूटी कम करने का निर्णय लिया है तब से ही राज्य सरकार ने इस पर मंथन शुरू कर दिया है। विभिन्न राज्यों की कर प्रणाली की समीक्षा के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chief Minister Bhupesh Baghel) के समक्ष वैट की कमी का प्रस्ताव रखा जाएगा और मुख्यमंत्री ही इस बारे में अंतिम निर्णय लेंगे।

यह भी पढ़े.. SSC Exams: एसएससी उम्मीदवारों के लिए बड़ी खबर, नया नियम लागू, जानें अपडेट

सिंह देव के इस बयान के बाद ही आशा बंधी है कि जल्द ही छत्तीसगढ़ में भी वैट में कमी होगी। अगर रविवार की बात करें तो रायपुर में पेट्रोल की कीमत 101.88 रू और डीजल की कीमत 93.78 रू प्रति लीटर है जो मध्य प्रदेश की तुलना में लगभग ढाई रुपए डीजल प्रति लीटर ज्यादा है। ऐसे में अब सबको इंतजार है कि राज्य सरकार वैट में कमी करें ताकि लोगों को पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कुछ और राहत मिल सके।