OPS : लोहड़ी पर लाखों कर्मचारी- पेंशनर्स को बड़ा तोहफा, पुरानी पेंशन योजना पर लगी मुहर

कैबिनेट बैठक में ओपीएस (OPS) को मंजूरी दिए जाने की सूचना बाहर आते ही कर्मचारियों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। कर्मचारियों ने मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू को ओल्ड पेंशन स्कीम बहाली का मसीहा कहा।

Old Pension Scheme : आखिरकार हिमाचल प्रदेश की कांग्रेस सरकार OPS बहाली के अपने चुनावी वादे को आज पूरा कर दिया। हिमाचल प्रदेश सरकार ने लोहड़ी के पर्व पर प्रदेश के लाखों कर्मचारियों- पेंशनर्स को पुरानी पेंशन योजना की सौगात दी है। मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू मंत्रिमंडल की पहली बैठक अज शुक्रवार को राज्य सचिवालय में हुई। इसमें कांग्रेस सरकार की पहली गारंटी यानी पुरानी पेंशन स्कीम (ओपीएस) को मंजूरी दी गई। OPS मंजूरी की सूचना सचिवालय के बाहर निकलते ही कर्मचारी ख़ुशी से झूम उठे और मुख्यमंत्री जिंदाबाद के नारों से सचिवालय को गुंजा दिया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान अर्की में मैंने पहली बार कहा था कि ओपीएस बहाल करेंगे, लेकिन जब हमने आकलन किया तो पता चला कि पिछली सरकार 11,000 करोड़ की देनदारियां हमारी झोली में डालकर चली गई। 1000 करोड़ रुपये का तो डीए का एरियर नहीं दिया है। नौकरी पर लगे लोगों का 4,430 करोड़ रुपये देना है। पेंशन वालों का 5,226 करोड़ रुपये देना है। जो 900 संस्थान खोले, उन पर 5,000 करोड़ रुपये खर्च आएगा यानी 16,000 करोड़ रुपये की देनदारियां हम पर छोड़ गए हैं। 75,000 करोड़ रुपये का कर्ज हम पर डालकर चले गए। कुल 86,000 करोड़ रुपये का कर्ज छोड़ गए हैं।

लेकिन हमें अपना वादा पूरा करना था तो मैंने अपना फार्मूला दिया, यह हमारी पहली गारंटी थी। छत्तीसगढ़ के फार्मूले को आधार बनाकर हिमाचल प्रदेश में अपना फार्मूला तैयार कर ओपीएस लागू किया जा रहा है। सीएम सुक्खू ने कहा कि प्रदेश के विकास की गाथा लिखने वाले करीब 1,36,000 अधिकारियों और कर्मचारियों को आज से ओपीएस का लाभ मिलना शुरू हो गया है। अधिसूचना आज या कल वित्त विभाग कर देगा। जो भी विभागों, बोर्डों, निगमों के पात्र कर्मचारी हैं, उन्हें इस योजना में लाया गया है। लोहड़ी का तोहफा आज सरकार ने दिया है।

सीएम सुक्खू ने ट्वीट कर इसकी जानकारी शेयर की, उन्होंने लिखा – कांग्रेस की विचारधारा प्यार, भाईचारे और सच्चाई की मिसाल है। आज लोहडी के शुभ अवसर पर मुझे हिमाचल के कर्मचारियों की लंबित मांग OPS को बहाल करते हुए बहुत खुशी हो रही है। मुझे पूर्ण विश्वास है कि कर्मचारी सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर हिमाचल के विकास मे अपना पूर्ण सहयोग देंगे ।

उधर कांग्रेस ने भी अपने ट्विटर एकाउंट पर हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा  ओल्ड पेंशन स्कीम मंजूर किय एजाने की पोस्ट शेयर की है, कांग्रेस ने ट्वीट किया – बड़ा फैसला,  कांग्रेस की सरकार ने हिमाचल प्रदेश में भी ‘पुरानी पेंशन’ बहाल की। इससे पहले राजस्थान और छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार भी पुरानी पेंशन लागू कर चुकी है। कांग्रेस कर्मचारियों के हित में काम करने के लिए हमेशा तत्पर है। हिमाचल की जनता से जो वादा किया वो निभाया