रिटायरमेंट के बाद हर महीने मिलेगी 50,000 रु. पेंशन, ऐसे समझे पूरा कैलकुलेशन

इसके बाद 1.04 करोड़ रुपये  एन्‍युटी में चले जाएंगे तो सालाना दर से हर महीने 51,848 रुपये की पेंशन मिलेगी वार्षिकी में जाएंगे।

Franklin Templeton

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। अगर आप नौकरीपेशा और रिटायरमेंट के बाद भविष्य को लेकर चिंतित है तो यह खबर आपके काम की है। नेशनल पेंशन सिस्टम (Nation pension System) आपके रिटायरमेंट के बाद के लिए एक बेस्‍ट ऑप्‍शन साबित हो सकता है।इसके लिए आपको बस 4,500 रुपये हर महीने निवेश करने होंगे तो आपको 51,848 रुपये प्रतिमाह पेंशन मिलेगी।

यह भी पढ़े.. Cabinet Meeting: 36000 कर्मचारी होंगे नियमित, विधेयक को मंजूरी, न्यूनतम वेतन में भी वृद्धि

दरअसल, नेशनल पेंशन सिस्टम (Nation pension System)एक सरकारी स्कीम है।इसके तहत अगर निवेशक की औसत उम्र 21 साल है और वह मासिक 4,500 रुपये निवेश करता है तो 21 साल से लेकर 60 साल यानि 39 साल यानि 54000 रुपये निवेश करेगा ।इसके तहत वह 39 साल में 21.06 लाख रुपये निवेश होगा और यदि 10 प्रतिशत का रिटर्न मिलता है तो मैच्योरिटी पर 2.59 करोड़ रुपये हो जाएगी।  यानी फिर आपको रिटायर होने पर करीब 51,848 रुपये महीना पेंशन तक मिलेंगे। यह एक उदाहरण के तौर पर दर्शाया गया है, यह राशि कम या ज्यादा भी हो सकती है।

मीडिया रिपोर्टस की मानें तो NPS में 40 फीसदी एन्युटी पर 6% की वार्षिक दर से रिटायरमेंट(retirement) के बाद 1.56 करोड़ रुपये एक साथ मिल जाएंगे।। इसके बाद 1.04 करोड़ रुपये  एन्‍युटी में चले जाएंगे तो सालाना दर से हर महीने 51,848 रुपये की पेंशन मिलेगी वार्षिकी में जाएंगे। खास बात ये है कि एन्‍युटी की रकम जितनी ज्‍यादा रखेंगे आपको पेंशन की राशि उतनी ही ज्‍यादा मिलेगी।

यह भी पढ़े.. मप्र पंचायत चुनावों को लेकर निर्देश जारी, 12 नवम्बर को वीसी, तारीखों का ऐलान जल्द!

इसके अलावा इसमें टैक्स का झंझट नहीं है, क्योंकि NPS पर इनकम टैक्स की धारा 80 CCD (1), 80 CCD (1B) और 80 CCD (2) के तहत टैक्स यानी 1.50 लाख रुपये से अलग 50,000 रुपये की और छूट ले सकते हैं। यानी NPS में निवेश कर 2 लाख रुपये की छूट का फायदा उठा सकते हैं।

ऐसे खोल सकते है खाता

  • NPS खाता खोलने के लिए enps.nsdl.com/eNPS या Nps.karvy.com पर जाकर न्यू रजिस्ट्रेशन पर क्लिक करें ।
  • सारी डिटेल्स भरने के बाद मोबाइल नंबर को ओटीपी से वेरिफाई किया जाएगा। बैंक खाता विवरण दर्ज करें। अपना पोर्टफोलियो और फंड चुनें। नाम भरें।
  • जिस बैंक खाते में विवरण भरा जाता है, उस खाते का रद्द चेक देना होगा। इसके अलावा फोटो और सिग्नेचर भी अपलोड करने होंगे।पेमेंट करने के बाद आपका परमानेंट रिटायरमेंट अकाउंट (PRN) नंबर जेनरेट हो जाएगा। आपको भुगतान रसीद भी मिलेगी।
  • निवेश करने के बाद ‘ई-साइन/प्रिंट रजिस्ट्रेशन फॉर्म’ पेज पर जाएं। यहां आप पैन और नेटबैंकिंग से रजिस्टर कर सकते हैं। यह KYC (अपने ग्राहक को जानो) करेगा।