PM Kisan : लाखों अपात्र किसानों के खाते में पहुंचे 4,350 करोड़, वसूली की तैयारी, चेक करें अपना भी नाम

लाखों अपात्र किसानों के खातों में करीब 4,350 करोड़ रुपये गलत तरीके से ट्रांसफर हो गए हैं, , ऐसे में अब केंद्र सरकार इन अपात्र या अयोग्य किसानों से पैसे वापस वसूल रही है।

MP wheat procurement

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट।PM Kisan. एक तरफ मोदी सरकार पीएम किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi 11th Installment) के 12 करोड़ लाभार्थी किसानों के खाते में जल्द 11वीं किस्त जारी करने वाली है। वही दूसरी तरफ सरकार ने किसानों के खाते में गलती से डाले 4,350 करोड़ की रिकवरी शुरू कर दी है।अगर आपको भी बिना पात्रता के पीएम किसान योजना की राशि ट्रांसफर हो गई है तो सरकार की रिकवरी से पहले pmkisan.gov.in पर जाकर इसे लौटा सकते है।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों के लिए खुशखबरी! पेंडिंग DA arrears पर आया ताजा अपडेट, जानें कब खाते में आएंगे 2 लाख?

दऱअसल, मोदी सरकार पीएम किसान सम्मान निधि (PM Kisan Yojana) योजना के तहत 2,000 रुपये की तीन किस्त यानी 6000 रुपये सालाना किसानों के खाते में सीधे भेजती है।हर 4 महीने में किसानों के अकाउंट में 2,000 रुपये ट्रांसफर किए जाते हैं। इसके तहत केंद्र सरकार 2 हेक्टेयर तक जमीन वाले किसानों को सालाना 6000 रुपये भेजती है, लेकिन लाखों अपात्र किसानों के खातों में करीब 4,350 करोड़ रुपये गलत तरीके से ट्रांसफर हो गए हैं, , ऐसे में अब केंद्र सरकार इन अपात्र या अयोग्य किसानों से पैसे वापस वसूल रही है।कई किसानों को इसके लिए नोटिस भी भेजे जा चुके है।

यह भी पढ़े..पेंशनरों की पेंशन पर बड़ी अपडेट, जल्द मिलेगा 6 लाख से ज्यादा को लाभ! खाते में आएगी इतनी राशि 

केंद्र सरकार ने राज्यों को ऐसे अपात्र किसानों से पैसे वापस वसूलने का निर्देश दिए है। इसमें कई ऐसे भी किसान हैं जो इनकम टैक्स का भुगतान करते हैं और साथ पीएम-किसान योजना का भी लाभ ले रहे हैं।सरकार की ओर से स्‍पष्‍ट निर्देश है कि सिर्फ छोटे और सीमांत किसानों को ही योजना के तहत आर्थिक मदद दी जाए। अगर आपके खाते में भी बिना पात्रता योजना का पैसा मिला है तो सरकार की रिकवरी से पहले आप खुद पीएम किसान की आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाकर Refund विकल्‍प पर क्लिक कर पैसा वापस लौटा सकते है।

नोटिस के बाद जमा हुए 7.65 लाख

इधर, यूपी के जालौन में जिले भर के 252676 किसानों का पंजीकरण कराया है, लेकिन 1740 फर्जी निकले है, जो आयकर दाता हैं और किसान सम्मान निधि का लाभ ले रहे हैं , जिन्हें विभाग द्वारा नोटिस जारी करते हुए पीएम किसाम सम्मान निधि की राशि लौटाने को कहा है।फिलहाल 880 को नोटिस जारी किया गया था और अच्छी बात ये है कि नोटिस मिलने के बाद 7.65 लाख रुपये जमा भी करा चुके हैं और प्रतिदिन 10 से 15 किसान स्वयं आकर चेक के माध्यम से किसान सम्मान निधि का रुपये लौटा रहे हैं।

ये योजना के आपत्र

  • यदि किसानों या उनके परिवार (पति, पत्‍नी, बच्‍चे) ने पिछले साल आयकर का भुगतान किया हो।
  • किसी संवैधानिक पद पर रहे या मौजूद किसान अथवा उनके परिवार।संस्‍थागत भूमि धारक किसानों और उनके परिवार।
  • सरकार या उसके अधीन किसी संस्‍था अथवा इकाई में मौजूदा कर्मचारी या रिटायर हो चुके कर्मचारियों । (चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को छोड़कर)रिटायर्ड पेंशनर्स जिनकी मासिक पेंशन 10 हजार रुपये से अधिक है।
  • वकील, सीए, डॉक्‍टर, इंजीनियर अथवा उनके परिवार के सदस्‍यों ।ऐसे किसान या उनके परिवार जो पूर्व में अथवा मौजूदा समय में मंत्री, विधायक, सांसद, नगर निमग के मेयर रहे।

ऐसे करें साइट पर विजिट

  • सबसे पहले pmkisan.gov.in वेबसाइट पर जाएं।
  • अब ‘Farmers Corner’ के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद लाभार्थी सूची (Beneficiary Status) पर क्लिक करें।
  • अब अपने राज्य, जिला, उप-जिला, ब्लॉक और गांव का नाम दर्ज करें।
  • फिर ‘Get Report’ ऑप्शन पर क्लिक करने पर पूरी लिस्ट खुलेगी।
  • किसान इस लिस्ट में आप अपनी किस्त का विवरण देख सकते हैं।