PM Kisan : 13वीं किस्त से पहले किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी, खाते में आएंगे 2000 रुपए, सरकार ने दी राहत, बिना गारंटी उपलब्ध होगा लोन

PM Kisan Ekyc-13th Installments : देश के करोड़ों किसानों के लिए अच्छी खबर है। पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थियों को अगले किस्त से पहले सरकार द्वारा बड़ी राहत दी गई है। दरअसल प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत किसानों के खाते में हर साल 6000 रुपए की राशि भेजी जाती है। 2000 के तीन समान किस्त की राशि का भुगतान किया जाता है। फिलहाल किसान के खाते में 12वीं किस्त की राशि अंतरित कर दी गई है।

नए अपडेट के मुताबिक 13वीं किस्त की राशि जनवरी या फरवरी के शुरुआती महीने में खाते में भेजी जा सकती है। पीएम किसान सम्मान निधि योजना में लापरवाही बरतने पर किसानों को अपनी अगली किस्त से वंचित होना होगा। जिस पर अब सरकार द्वारा किसानों को बड़ी राहत दी गई है।

सरकार ने जानकारी देते हुए कहा कि ओटीपी बेस्ड ईकेवाईसी करवाना सभी किसानों के लिए बेहद आवश्यक है। पोर्टल की मदद से किसान आसानी से घर बैठे ईकेवाईसी का काम पूरा कर सकते हैं। हालांकि पहले ईकेवाईसी की अंतिम तिथि 31 अगस्त 2022 तय की गई थी। अब इसे फिर से बढ़ा दिया गया है। वहीं तारीख की बाध्यता को भी समाप्त कर दिया गया है। इस योजना का लाभ लेने वाले किसानों को ईकेवाईसी कराना अनिवार्य होगा। बायोमेट्रिक बेस्ट ई केवाईसी कराने के लिए किसान अपने नजदीकी सीएससी सेंटर से संपर्क कर सकेंगे।

ई-केवाईसी करवाना अनिवार्य

इसके अलावा सरकार की तरफ से महत्वपूर्ण निर्देश भी जारी किए गए। जिसमें कहा गया कि रजिस्ट्रेशन करते वक्त कई बार किसान लापरवाही बरतते हैं। जिसके कारण उनके रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया में कई गलतियां रह जाती है। आधार नंबर बैंक अकाउंट नंबर आदि गलत भरे जाने के कारण कई किसान अभी भी पहले भेजी हुई किस्तों से वंचित हैं। पीएम किसान सम्मान की 13वीं किस्त जारी होने से पहले सभी किसानों को ई-केवाईसी करवाना अनिवार्य होगा। ऐसा नहीं होने की स्थिति में सिर्फ ईकेवाईसी करवाए गए हितग्राहियों को ही 13वीं किस्त की राशि जारी की जाएगी।

मार्च 2023 तक 100 करोड़ रुपए का लोन देने का लक्ष्य

वही अगली किस्त की राशि जारी होने से पहले किसानों के जो बड़ी खुशखबरी सामने आई है। उसके तहत एग्रीकल्चर टेक कंपनी ऑरिगो कमोडिटीज और फिनटेक कंपनी विवृति कैपिटल के बीच इकरार किया गया है। जिसमें कंपनी द्वारा बिना किसी गैरंटी के किसान उत्पादक संगठनों को दो करोड़ रुपए तक का लोन दिया जाएगा। इस मामले में ऑरिगो कम्युनिटी की तरफ से कहा गया है कि कंपनी द्वारा डिजिटल प्लेटफॉर्म के जरिए मार्च 2023 तक 100 करोड़ रुपए का लोन देने का लक्ष्य रखा गया।

6 महीने में पकड़ाए 1.86 करोड अपात्र किसान

वहीं प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत करोड़ों किसान सुविधा का लाभ उठा रहे हैं। किसानों को 12वीं किस्त की राशि जारी कर दी गई है। इससे पहले आधार लिंक करने सही डाटा क्लीन करने और चौथे डिजिटल फिल्टर के तहत लाभार्थी किसानों की संख्या पिछले 6 महीने में 1.86 करोड कम हो गई है।

11वीं किस्त की राशि 10.45 करोड़ से अधिक किसानों को मिला था। वही 12वीं किस्त की राशि सिर्फ आठ करोड़ 58 लाख किसानों को जारी की गई है। किसानों की घटती संख्या के पीछे का बड़ा कारण उनका अपात्र होना है। पांच राज्य में ऑफिस पात्र किसानों की संख्या में गिरावट देखने को मिली है। Ekyc के कारण उत्तर प्रदेश में 58 लाख किसान कम हो गई जबकि पंजाब में आंकड़ा 17 लाख से घटकर 2 लाख रह गया है।

गांव गांव भेजी जाएगी पीएम किसान की टीम

योजना में पारदर्शिता रखने वाला पात्र किसानों की पहचान करने के लिए किसानों के लिए ई केवाईसी लागू किया गया। साथ ही आधार पेमेंट भेज के जरिए भुगतान किया जा रहा है। केंद्र ने राज्य के साथ मिलकर गांव गांव पीएम किसान की टीम भेजने को कहा था कि असली हकदार को ही योजना का लाभ मिल सके। जो 4 संस्थाएं पात्र किसानों की पहचान कर रही है। उसमें pfms के अलावा यूआईडीएआई, आईटी और एनपीसीआई शामिल है।