PM Kisan: किसानों के लिए बड़ी अपडेट, ये लाभार्थी योजना से बाहर, नहीं मिलेगा पैसा, जानें कब आएंगे 12वीं किस्त के 2000?

मौजूदा या पूर्व सांसद विधायक में तो ऐसे लोग भी किसान योजना का लाभ उठाने के लिए अपात्र घोषित किए गए हैं। 

PM Kisan Samman Nidhi 11th installment

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। पीएम किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Scheme) के लाभार्थी किसानों के लिए महत्वपूर्ण सूचना है।एक तरफ जहां केन्द्र की मोदी सरकार ने ई-केवायसी और राशन कार्ड अनिवार्य कर दिया है वही दूसरी तरफ योजना के लिए नियम भी बनाए है इसके लिए जो दायरे में आएंगे उन्हें योजना की किश्तों का लाभ मिलेगा और जो दायरे से बाहर होंगे उन्हें लाभ नहीं दिया जाएगा। अगर किसी ने गड़बड़ी या फर्जीवाड़ा कर किस्ते हासिल तो उसे वापस लौटानी होगा वरना उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।हाल ही में कईयों को वसूली नोटिस भी जारी किए गए है।

यह भी पढ़े.. 85 हजार पेंशनरों के लिए बडी खबर, 30 जुलाई से पहले अपडेट करें ये डिटेल्स, वरना अटक सकती है पेंशन

योजना के लिए सरकार की तरफ से बनाए गए नियमानुसार,  जिनके पास 2 हेक्टेयर से ज्यादा की कृषि योग्य भूमि है, उन्हें इस योजना के तहत लाभ नहीं मिलेगा। जो केंद्र/राज्य सरकार के मंत्रालयों/कार्यालयों/विभागों और इसकी क्षेत्रीय इकाइयों के सेवारत या सेवानिवृत्त अधिकारी और कर्मचारी केंद्रीय या राज्य सार्वजनिक उपक्रमों और सरकार के तहत संलग्न कार्यालयों/स्वायत्त संस्थानों के साथ-साथ स्थानीय निकायों के नियमित कर्मचारी योजना के तहत लाभ पाने के लिए पात्र नहीं हैं।प्रोफेशनल रजिस्टर डॉक्टर इंजीनियर वकील चार्टर्ड अकाउंटेंट और उनके परिवार वाले भी अपात्र की श्रेणी में शामिल किए गए हैं।

यह भी पढ़े.. MP Weather: 4 वेदर सिस्टम एक्टिव, 33 जिलों में भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी, बिजली गिरने की भी चेतावनी

इसके अलावा ऐसे किसान जो अपनी खेती की जमीन का इस्तेमाल कृषि कार्य के लिए ना करके किसी अन्य कार्य के लिए कर रहे हो या दूसरे की खेत पर किसानी का काम कर रहे हो, वह योजना का लाभ नहीं उठा सकते हैं।यदि कोई किसान खेती लेकिन खेत उसके नाम ना होकर उनके पिता-दादा सहित पूर्वजों के नाम पर है वह भी इस लाभ नहीं उठा पाएंगे।जो किसान परिवार कोई टैक्स देता है तो वह इस योजना का लाभ नहीं उठा सकेंगे।अगर कोई किसान खेती की जमीन का मालिक है लेकिन वह सरकारी कर्मचारी है या सेवानिवृत हो चुका है।मौजूदा या पूर्व सांसद विधायक में तो ऐसे लोग भी किसान योजना का लाभ उठाने के लिए अपात्र घोषित किए गए हैं।

सितंबर में आ सकती है 12वीं किस्त

बता दे कि इस योजना के तहत किसानों को हर साल 6000 रुपये दिए जाते हैं। हर 4 महीने में किसानों के खाते में 2,000 रुपये ट्रांसफर किए जाते हैं। यह पैसा DBT यानी डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के जरिए सीधे किसानों के खाते में पहुंचता है इसकी पहली किस्त की राशि 1 अप्रैल से 31 जुलाई, दूसरी किस्त की राशि 1 अगस्त से 30 नवंबर और तीसरी किस्त 1 दिसंबर से 31 मार्च के बीच भेजी जाती है। अब 1 अगस्त से 30 नवंबर के बीच 12वीं किस्त भेजी जानी है। संभावना जताई जा रही है कि राखी के बाद सितंबर में 12वीं किस्त आ सकती है।

31 जुलाई से पहले करें e-KYC, राशन कार्ड भी अनिवार्य

12वीं किस्त से पहले जिन किसानों ने ई-केवायसी की प्रक्रिया पूरी नहीं की है वे जल्द पूरी कर लें, क्योंकि e-KYC करवाने की लास्ट डेट 31 जुलाई 2022 रखी गई है, इसके बाद ई-केवायसी करवाने में परेशानी आ सकती है।
इसके अलावा अब किसान योजना  में राशन कार्ड अनिवार्य कर दिया गया है, ऐसे में रजिस्ट्रेशन करते समय राशन कार्ड नंबर (Ration Card Mandatory) अपलोड करना होगा और दस्‍तावेजों की सिर्फ सॉफ्टकॉपी (PDF) बनाकर पोर्टल पर अपलोड करनी होगी।साथ ही स्कीम का लाभ उन्हीं किसानों को मिलेगा जिनके पास आधार है, बिना आधार के आप इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते है।जिन किसानों को अब तक के 11वीं किस्त नही मिली है वे हेल्पलाइन नंबर या फिर पीएम किसान की अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर संबंधित विषय में जानकारी ले सकते हैं।

PM Kisan: लाभार्थी लिस्ट में देखें अपना नाम

  • सबसे पहले प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाएं।
  • यहां पर farmer corner पर क्लिक करें और ऐसा करने पर नया पेज ओपन होगा।
  • यहां beneficiary list ऑप्शन को सेलेक्‍ट करें और अब फॉर्म खुलेगा। इसमें पहले राज्‍य, फिर जिला, ब्‍लॉक और गांव का नाम चुनें।
  • मांगी गई सभी जानकारी को भरने के बाद get report पर क्लिक करें औरऐसा करते ही आपके सामने आपके गांव के पीएम किसान योजना के लाभार्थियों की लिस्‍ट खुल जाएगी।
  • इस लिस्ट को देखकर आप पता लगा सकते हैं कि आपका नाम लाभार्थी किसानों में है या नहीं।

 ऐसे करें e-KYC

  • सबसे पहले पीएम किसान के आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाना होगा।
  • यहां आपको ई-केवाईसी के विकल्प पर क्लिक करना होगा ।
  • अपना आधार नंबर और कैप्चा कोड भरना होगा।
  • अब सर्च वाले विकल्प पर क्लिक करके यहां अपना मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा।
  • मोबाइल नंबर पर आए ओटीपी को यहां भरना होगा। ऐसा करते है आपका ई-केवाईसी पूरा हो जाएगा।