नवंबर में करोड़ों किसानों को मिलेगी सौगात! जल्द खाते में आएंगे 2000-2000, जानें PM Kisan की 15वीं किस्त पर नई अपडेट

pm kisan yojana

PM Kisan Samman Nidhi Yojana 15 Installment : प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के करोड़ों लाभार्थियों के लिए अगली किस्त पर ताजा अपडेट आया है।  मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दिवाली के बाद नवंबर अंत तक करोड़ों किसानों के खाते में  15वीं किस्त के 2000-2000 रुपए जारी किए जाएंगे। वही जिन किसानों ने eKYC, भू सत्यापन और आधार लिंक नहीं करवाया है वे फटाफट अपडेट करवा लें अन्यथा किस्त लाभ नहीं मिलेगा।

नवंबर में आ सकती है 15वीं किस्त

दरअसल,  प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना केन्द्र सरकार की किसानों के लिए एक बड़ी योजना है। इस योजना में किसानों को सालाना 6,000 रुपये की राशि दी जाती है। यह राशि हर 4 माह में 3 किस्तों में मिलती है। हर किस्त में किसान को 2,000 रुपये की राशि दी जाती है। इस योजना में मिलने वाली राशि किसानों के अकाउंट में डायरेक्ट जमा होती है। पीएम किसान योजना के नियमानुसार, पहली किस्त अप्रैल-जुलाई के बीच , दूसरी अगस्त से नवंबर के बीच और तीसरी किस्त दिसंबर से मार्च के बीच दी जाती है, ऐसे में संभावना है कि दिवाली के बाद 27 नंवबर को अगली किस्त के 2000 रुपए किसानों के खाते में भेजे जा सकते है। हालांकि किस्त की फाइनल डेट की अधिकारिक पुष्टि होना बाकी है।

जल्द अपडेट करें ये डॉक्यूमेंट्स, वरना नहीं मिलेगा लाभ

ध्यान रहे योजना की किस्तों का लाभ लेने के लिए मोदी सरकार ने 3 दस्तावेजों को अनिवार्य किया है, ऐसे में जिन किसानों ने अबतक eKYC, भू सत्यापन और आधार लिंक नहीं करवाया है वे फटाफट अपडेट करवा लें अन्यथा किस्त से वंचित रह सकते है।इसके अलावा भरे गए आवेदन फॉर्म को भी अच्छी तरह से चेक कर लें, ताकी कोई जेंडर की गलती, नाम की गलती, आधार नंबर में गलती न हो, अन्यथा किस्त रुक सकती हैं। योजना संबंधी किसी भी तरह की समस्या पर ईमेल आईडी pmkisan-ict@gov.in पर संपर्क कर सकते हैं। वही हेल्पलाइन नंबर- 155261 या 1800115526 (Toll Free) या फिर 011-23381092 के जरिए कॉन्टेक्ट कर सकते हैं।

31 अक्टूबर तक चलेगा ये अभियान

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की अगली किस्त से पहले उत्तर प्रदेश में 31 अक्टूबर तक ब्लाक व तहसील स्तर पर अभियान चलाकर किसानों की ई-केवाईसी को पूरा किया जा रहा है। अपर कृषि निदेशक वीके सिसोदिया ने बताया कि पीएम किसान योजना के तहत 14 वीं किस्त 1.86 करोड़ किसानों के खाते में भेजी गई थी, जिन किसानों की लैंड सीडिंग, बैंक खाते के साथ आधार सीडिंग, ई केवाईसी का कार्य पूरा नहीं होगा, उन्हें अगली किस्त नहीं मिलेगी।इसलिए 31 अक्टूबर तक अभियान चलाकर अधिक से अधिक किसानों की ई-केवाईसी का कार्य किया जा रहा है, ताकी ज्यादा से ज्यादा किसानों को इसका लाभ मिल सके।

एप से भी कर सकते है रजिस्ट्रेशन

  • गूगल स्टोर (Google Store) पर जाकर पीएमकिसान ऐप (PMKISAN App) को डाउनलोड करें या अधिकारिक पोर्टल से भी PMKISAN ऐप को इंस्टॉल कर सकते हैं।
  • ऐप पर आपको अपने लिए भाषा का चयन करना है और फिर ‘नया किसान पंजीकरण’ को सिलेक्ट करें।
  • अब आप अपना आधार कार्ड नंबर, कैप्चा दर्ज करें और आगे बढ़े पर क्लिक करें।इसके बाद आप बैंक डिटेल्स, आईएफएससी कोड, जमीन के द्सतावेज जैसे बाकी जानकारी भरें।
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको सबमिट पर क्लिक करना है। इस तरह रजिस्ट्रेशन का प्रोसेस पूरा हो जाएगा।

जानिए कैसे करें eKYC

  • पीएम-किसान की आधिकारिक वेबसाइट www.pmkisan.gov.in पर जाएं।
  • होमपेज के दाएं तरफ ईकेवाईसी विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब अपना आधार कार्ड नंबर और कैप्चा कोड डालें और सर्च पर क्लिक करें।
  • आधार कार्ड से जुड़ा मोबाइल नंबर दर्ज करें।
  • ‘Get OTP’ पर क्लिक करें और दिए गए बॉक्स में OTP दर्ज करें।

कैसे चेक करें ताजा स्टेटस

  • सबसे पहले किसान आधिकारिक वेबसाइट pmkisan.gov.in पर जाएं।
  • होमपेज पर Farmers Corner के सेक्शन में जाएं।
  • अब किसान Beneficiary List पर क्लिक करें।इसके बाद किसान अपने राज्य, जिला, तहसील, ब्लॉक और गांव का नाम दर्ज करें।
  • अब Get Report पर क्लिक करें और लिस्ट में अपना नाम चेक कर लें।
  • यदि ई-केवाईसी, पात्रता और लैंड सिंडिंग के आगे ‘NO’ लिखा है। इसका मतलब है कि आप पीएम किसान योजना के पात्र नहीं है।
  • अगर इन तीनों के आगे ‘YES’ लिखा है, तो आपको किस्त का लाभ मिल सकता है।

 


About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)

Other Latest News