आज PM मोदी करेंगे जलियांवाला बाग के नए परिसर का वर्चुअल उद्धघाटन, जानें क्या है खासियत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज जलियांवाला बाग स्मारक में दोबारा बनाए गए परिसर का लोकार्पण करेंगे। जलियांवाला बाग नरसंहार के 102 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में इस साल 13 अप्रैल को इस स्मारक के नए परिसर का उद्घाटन किया जाना था, लेकिन कोरोना वायरस महामारी के चलते इस कार्यक्रम को स्थथगित करना पड़ा था।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। पंजाब (Punjab) के अमृतसर (Amritsar) में स्थित जलियांवाला बाग स्मारक (Jallianwala Bagh Memorial) का पुनर्निमित परिसर तैयार है जिसका प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से उद्घाटन करेंगे। प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जानकारी दी गई थी के आज शाम 6:25 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जलियांवाला बाग के नए परिसर को राष्ट्रन को समर्पित करेंगे। बता दें, इस नए परिसर का 20 करोड़ रुपये की लागत से रेनोवेशन हुआ है। 2019 में जलियांवाला नरसंहार के 100 साल पूरे हुए थे। 100 साल होने के मौके पर रेनोवेशन का फैसला किया गया था जिसका पीएम मोदी आज उद्घाटन करेंगे।

आज PM मोदी करेंगे जलियांवाला बाग के नए परिसर का वर्चुअल उद्धघाटन, जानें क्या है खासियत

ये भी देखें- हैवानियत : पति को था अवैध संबंध का शक, पत्नी के प्राइवेट पार्ट को सुई-धागे से सिला

इसके साथ ही स्मारक स्थल पर विकसित म्यूजियम गैलरी का भी उद्घाटन करेंगे। इस दौरान पूरे परिसर को उन्नत करने के लिए सरकार द्वारा की गई अनगिनत विकास पहलों को भी दर्शाया जाएगा। आपको बता दें जलियांवाला बाग स्मारक के पुनर्निर्मित परिसर का उद्घाटन इस साल 13 अप्रैल को किया जाना था, लेकिन कोरोना महामारी के चलते इस कार्यक्रम को स्थगित करना पड़ा था।

इस उद्घाटन के कार्यक्रम में केंद्रीय संस्कृति मंत्री, केंद्रीय आवास और शहरी कार्य मंत्री, संस्कृति राज्य मंत्री, पंजाब के राज्यपाल और मुख्यमंत्री, हरियाणा, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री, पंजाब के सभी लोकसभा और राज्यसभा सांसद और जलियांवाला बाग राष्ट्रीय स्मारक के सदस्यगण उपस्थित रहेंगे।

ये भी देखें- Sex Racket : व्हाट्सएप पर फोटो भेज होती थी बुकिंग, आपत्तिजनक हालात में कई गिरफ्तार

आपको बता दें, जलियांवाला बाग परिसर में काफी समय से कम उपयोग वाली इमारतों का दोबारा इस्‍तेमाल सुनिश्चित करते हुए चार संग्रहालय दीर्घाएं बनाई गई हैं। इन दीर्घाओं में आजादी के आंदोलन के दौरान पंजाब में हुई विभिन्‍न घटनाओं के विशेष ऐतिहासिक महत्‍व को दर्शाया गया है। घटनाओं को दिखाने के लिए लाइट एंड साउंड शो की प्रस्तुति दी जाएगी। इसमें मैपिंग और थ्री डी चित्रण के साथ कला और मूर्तिकला भी शामिल हैं। साथ ही आने-जाने में सुविधा के लिए यहां स्थित मार्गों को चौड़ा किया गया है। यहां कई नई और आधुनिक सुविधाओं को जोड़ा गया है। पौधारोपण के साथ बेहतर भूदृश्य एवं चट्टानों युक्‍त निर्माण कार्य भी किए गए हैं।