गणतंत्र दिवस के मौके पर खास पगड़ी पहने नजर आए पीएम मोदी, जानें इसकी विशेषताएं

Republic Day 2024: आज देशभर में 75वें गणतंत्र दिवस का जश्न मनाया जा रहा है। इस मौके पर पीएम मोदी ने खास पगड़ी पहनी। पगड़ी ने सभी का ध्यान अपनी और खींचा।

भावना चौबे
Published on -
PM modi

Republic Day 2024: आज 26 जनवरी के दिन पूरे भारत में 75वां गणतंत्र दिवस मनाया जा रहा है। आज का दिन भारत के एक-एक नागरिक के लिए बेहद खास है। इसी दिन हमारे देश का संविधान लागू हुआ था। इस खास अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिल्ली स्थित वॉर मेमोरियल पहुंचे। जहां पहुंचकर उन्होंने तीनों सेना के प्रमुख से मुलाकात की। इस बार पीएम मोदी के खास लुक ने सभी का ध्यान अपनी ओर खींच लिया।

कैसा था पीएम मोदी का खास लुक

गणतंत्र दिवस 2024 पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक खास प्रिंट की पगड़ी पहनी। यह पगड़ी बांधनी प्रिंट की थी जो की राजस्थान में काफी लोकप्रिय है। बांधनी एक पारंपरिक भारतीय कपड़ा बुनाई तकनीक है। जिसमें रंगीन धागों का उपयोग करके सुंदर और जटिल डिजाइन बनाई जाती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इस पगड़ी में लाल, पीले और गुलाबी रंगों का उपयोग किया गया था। यह पगड़ी उनके पारंपरिक भारतीय पोशाक, सफेद कुर्ता पायजामा और जैकेट के साथ बहुत अच्छी लग रही थी।

पगड़ी में क्या खास था

वैसे तो पीएम मोदी ने जो पगड़ी पहनी थी, उसमें कई रंग मौजूद। लेकिन सबसे ज्यादा केसरी रंग नजर आ रहा है। जैसा कि हम सब जानते हैं केसरी रंग भगवान श्री राम का पसंदीदा रंग है जिसे भगवा रंग भी कहा जाता है। इसलिए इस बार 26 जनवरी के मौके पर प्रधानमंत्री के लुक को 22 जनवरी को हुए अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा से जोड़ा जा रहा है। पीएम मोदी की इस पगड़ी ने लोगों के बीच काफी चर्चा पैदा करदी है।

इस बार गणतंत्र दिवस पर क्या खास रहा

इस साल फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए। इस बार महिला आधारित गणतंत्र दिवस थीम के तहत परेड में पहली बार महिलाएं त्रि सेवा टुकड़ी कर्तव्य पथ पर मार्च करती नजर आई। भारतीय जनसंचार संस्थान की पूर्व छात्रा और भारतीय वायु सेवा में वायु यातायात नियंत्रक स्क्वाड्रन लीडर सुमित यादव ने इस साल गणतंत्र दिवस परेड में भाग लिया।


About Author
भावना चौबे

भावना चौबे

इस रंगीन दुनिया में खबरों का अपना अलग ही रंग होता है। यह रंग इतना चमकदार होता है कि सभी की आंखें खोल देता है। यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा कि कलम में बहुत ताकत होती है। इसी ताकत को बरकरार रखने के लिए मैं हर रोज पत्रकारिता के नए-नए पहलुओं को समझती और सीखती हूं। मैंने श्री वैष्णव इंस्टिट्यूट ऑफ़ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन इंदौर से बीए स्नातक किया है। अपनी रुचि को आगे बढ़ाते हुए, मैं अब DAVV यूनिवर्सिटी में इसी विषय में स्नातकोत्तर कर रही हूं। पत्रकारिता का यह सफर अभी शुरू हुआ है, लेकिन मैं इसमें आगे बढ़ने के लिए उत्सुक हूं। मुझे कंटेंट राइटिंग, कॉपी राइटिंग और वॉइस ओवर का अच्छा ज्ञान है। मुझे मनोरंजन, जीवनशैली और धर्म जैसे विषयों पर लिखना अच्छा लगता है। मेरा मानना है कि पत्रकारिता समाज का दर्पण है। यह समाज को सच दिखाने और लोगों को जागरूक करने का एक महत्वपूर्ण माध्यम है। मैं अपनी लेखनी के माध्यम से समाज में सकारात्मक बदलाव लाने का प्रयास करूंगी।

Other Latest News