जेल में गूंजी शहनाई, लाल जोड़े में आई दुल्हन

जेल का नाम आते ही ज़हन में जो तस्वीर कौंधती है, उसमें जेल यूनिफॉर्म पहने कैदी और सख्त जेलर ध्यान आते हैं। लेकिन पंजाब के नाभा जेल में इन दिनों नज़ारा कुछ अलग सा है। हो सकता है आप यहां पहुंचे तो आपको कोई कैदी शेरवानी पहने मिले, साथ में सजी धजी दुल्हन हो और जेल स्टाफ बारातियों की भूमिका निभा रहा हो।

दरअसल नाभा जेल में शुक्रवार को दूसरी बार शादी की शहनाई गूंजी और दो लोगों ने जन्म-जन्मांतर का रिश्ता जोड़ा। यहां  हत्या के मामले में उम्रकैद की सजा काट रहे कैदी मोहम्मद वसीम झल्ला का निकाह कराया गया। वसीम ने पहले हाईकोर्ट में निकाह के लिए पैरोल की मांग की थी लेकिन जेल प्रबंधन ने मांग की कि सुरक्षा कारणों से उसका निकाह जेल के अंदर ही कराया जाए। वसीम का निकाह पहले से तय था और उसे निकाह के तीन दिन पहले ही पुलिस ने गिरफ्तार किया था। लिहाज़ा तय दिन पर ही वसीम का निकाह जेल के अंदर सम्पन्न कराया गया जिसमें मौलवी समेत आठ लोग शामिल हुए। आम तौर पर निकाह के बाद दुल्हन अपने घर से विदा होकर ससुराल जाती है लेकिन यहां दुल्हन अकेली ही अपने घर लौटी। अब उसे वसीम की रिहाई का इंतज़ार करना होगा। इससे पहले भी नाभा जेल में गैंगस्टर मनदीप सिंह की शादी कराई गई थी।