ब्रह्मा मंदिर पहुंचे राहुल गांधी ने आखिरकार बता दिया अपना गोत्र

Rahul-Gandhi-reached-Brahma-temple-and-finally-tell-his-gotra-

नई दिल्ली| चुनावी समय में राजनीतिक दलों में अपने विचारों से अधिक धर्म और जातियों को लेकर युद्ध छिड़ा हुआ| नेता एक दूसरे की आस्था तक पर सवाल उठा रहे हैं| वहीं सॉफ्ट हिंदुत्व की राह पर चल रहे कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी बीजेपी के निशाने पर हैं| उनके बार बार मंदिर जाने को लेकर सवाल उठाये जाते हैं| उनके धर्म और यहां तक कि गोत्र को लेकर बीजेपी नेता सवाल उठा चुके हैं| अब राहुल गांधी ने अपना गोत्र बता दिया है| राजस्था में चुनाव को लेकर सोमवार को यहां राहुल गांधी दौरे पर रहे|  उन्होंने पहले अजमेर जाकर ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर चादर चढ़ाई। इसके बाद वह पुष्कर में जगतपिता ब्रह्मा जी के मंदिर गए। राहुल ने अपने गोत्र का खुलासा कर दिया। 

राहुल गांधी ने सोमवार को पुष्कर के ब्रह्मा मंदिर में विधि-विधान के साथ पूजा की। इस दौरान उन्होंने वहां मौजूद पंडित-पुजारियों को अपना गोत्र भी लिखवाया। राहुल ने कौल दत्तात्रेय गोत्र के नाम से पूजा की। राहुल ने बताया कि वह कौल (कश्मीरी) ब्राह्मण हैं और दत्तात्रेय उनका गोत्र है। इसके बाद पुजारी ने मंदिर में पूजा संपन्न कराई। 

बीजेपी बार बार उनके मंदिर जाने पर सवाल उठती रही है| यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाल ही में मध्य प्रदेश और राजस्था में चुनावी सभाओं में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा था कि वह बीजेपी की नकल कर रहे हैं. लेकिन उन्हें ये पता होना चाहिए कि नकल के लिए भी अक्ल की जरूरत पड़ती है| उन्हें तो ये भी नहीं पता कि मंदिर में जब जाते हैं तो किस तरह से वहां पर बैठा जाता है| बीजेपी नेताओं द्वारा राहुल के गोत्र और जनेऊ को लेकर भी हमला बोला जाता है|  इससे पहले मध्य प्रदेश के चुनावी दौरे के दौरान इंदौर में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए पूछा था, ‘हम राहुल गांधी से पूछना चाहते हैं कि आप जनेऊधारी हैं| आप कैसे जनेऊधारी हैं आपका गोत्र क्या है|  

पवैया ने कहा था राहुल गौत्र का अर्थ भी नहीं समझते 

मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार में मंत्री जयभान सिंह पवैया ने भी राहुल के गोत्र को लेकर सवाल उठाये थे| उन्होंने कहा था  राहुल गाँधी को तो यह तक नहीं पता कि उनका गोत्र क्या है, बल्कि उन्हें गोत्र का अर्थ भी नहीं मालूम| पवैया ने कहा राहुल गाँधी मंदिर-मंदिर, मस्जिद-मस्जिद और गुरूद्वारे के चक्कर लगा रहे हैं| हमें पता चला है कि जब राहुल मंदिर गए तो किसी ब्राह्मण ने उनसे गोत्र पूछ लिया, जब गोत्र पूछा तो राहुल गाँधी पीछे खड़े कांग्रेसियों से पूछने लगे यह गोत्र क्या होता है|  पवैया आगे बोले जब राहुल नहीं बता पाए तो ब्राह्मण ने कहा गोत्र नहीं जानते तो अमुख गोत्र बता दो, इस पर राहुल बोले हां-हाँ मेरा गौत्र अमुख है|