राहुल गांधी के ‘रेप इन इंडिया’ बयान पर बवाल, माफ़ी से इनकार

नई दिल्ली|  केंद्र की BJP सरकार पर वार करते हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नारा ‘मेक इन इंडिया’ अब ‘रेप इन इंडिया’ में तब्दील हो चुका है| उनके इस बयान पर बवाल मच गया है| लोकसभा में शुक्रव को राहुल के बयान पर भारी हंगामा हुआ| 

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के नेतृत्व में महिला सांसदों ने हंगामा किया और राहुल गांधी से माफी की मांग की। स्मृति ने कहा, महिला को राहुल ने बदनाम किया है। हर भाई और बेटा दुष्कर्मी नहीं होता। इस बीच भाजपा सांसदों ने भी कहा कि राहुल गांधी को ये क्या हो गया है। गांधी खानदान के सदस्य का यह कैसा बयान है? उन्होंने लोकसभा स्पीकर से मांग की कि इस बयान के लिए राहुल को सजा मिलना चाहिए। स्मृति ने कहा इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि कोई नेता यह सफाई दे रहा है कि भारतीय महिलाओं के साथ दुष्कर्म किया जाना चाहिए। क्या यह राहुल गांधी का देश के लोगों के लिए संदेश है| वहीं रक्षा मंत्री राजनाथ सिंंह ने भी कहा कि राहुल का बयान शर्मिंदा करने वाला है। इसी मुद्दे पर राज्यसभा में भी हंगामा हुआ और कार्रवाई कुछ देर के लिए स्थगित करना पड़ी। 

नहीं मागूंगा माफी-राहुल गांधी 

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने रेप वाले बयान पर लोकसभा में हंगामा होने के बाद कहा कि वे माफी नहीं मांगेंगे। बीजेपी मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिए ऐसे पैंतरे अपना रही है। उन्होंने कहा कि सरकार ने दुनिया में भारत की छवि खराब की है। आज अर्थव्यवस्था की बात नहीं होती है।   राहुल गांधी ने कहा कि मैं इसके लिए कभी माफी नहीं मांगूंगा, राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली को ‘रेप कैपिटल’ कहा था| अब मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिए बीजेपी वाले हल्ला कर रहे हैं|