राजस्थान में ठंड का कहर, अगले 2 दिन तक 23 जिलों में घने कोहरे-कोल्ड डे का अलर्ट, शीतलहर की भी चेतावनी, जानें पूरे हफ्ते कैसा रहेगा मौसम का हाल

imd weather

Rajasthan Weather Alert Today: राजस्थान में कड़कड़ाती ठंड और घने कोहरे ने जनजीवन अस्त व्यस्त कर दिया है, प्रदेश के कई जिले घने कोहरे और शीतलहर की चपेट में है। कई जिलों में तापमान 5 डिग्री से कम तो कहीं शून्य तक जा पहुंचा। खास करके पूर्वी राजस्थान और पश्चिमी राजस्थान में ठंड का तेज प्रभाव देखने को मिल रहा है। मंगलवार बुधवार को भी 20 से ज्यादा जिलों में घने कोहरे और कोल्ड डे के साथ शीतलहर की चेतावनी जारी की गई है।इस दौरान कहीं-कहीं विजिबिलिटी 200 मीटर से भी कम दर्ज होने की संभावना है।

राजस्थान मौसम विभाग के मुताबिक, अगले तीन दिन भी मौसम शुष्क रहने की संभावना है हालांकि  4 से 5 दिनों तक न्यूनतम तापमान में कोई विशेष परिवर्तन की संभावना नहीं है।फिलहाल  मौसम यूहीं बना रहेगा।  25-26 के बाद राहत मिलने की उम्मीद है। इधर, किसानों को भी अपने फसलों की देखभाल करने और पाला से बचाने की सलाह दी गई है।फिलहाल बारिश की कोई संभावना नहीं जताई गई है।

इन जिलों में कोहरे, कोल्ड डे का अलर्ट

  • आज मंगलवार को अलवर, भरतपुर, दौसा, धौलपुर, झुंझुनूं, करौली, सवाई माधोपुर, सीकर, बीकानेर, चूरू, हनुमानगढ़ और श्रीगंगानगर में घने कोहरे का अलर्ट जारी किया गया है।
  • बुधवार को अलवर, भरतपुर, दौसा, धौलपुर, झुंझुनूं, करौली, सीकर, चूरू, हनुमानगढ़ और श्रीगंगानगर में कोहरे की चेतावनी दी गई है।
  • अलवर,झुंझुनू, चूरू,सीकर में शीतलहर के साथ घना कोहरा रहेगा।
  • भरतपुर,धौलपुर,हनुमानगढ़ और गंगानगर  में शीतल दिन और कोहरा।
  • अलवर, धौलपुर, झुंझुनूं, करौली, चूरू और हनुमानगढ़ जिले में अतिशीत दिन रहने और घना कोहरा को लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)

Other Latest News