कर्मचारियों-छात्रों के लिए अच्छी खबर, मिलेगा अवकाश का लाभ, आदेश जारी, बंद रहेंगे कार्यालय-शिक्षण संस्थान

Govt employee news

Government Employees Holiday : राजस्थान के सरकारी कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है। मार्च अप्रैल में अवकाश का लाभ मिलने वाला है। राज्य सरकार ने 24 मार्च को गणगौर मेले के मौके पर आधे दिन का अवकाश घोषित किया है। इसका लाभ कर्मचारियों के अलावा शिक्षक संस्थानों और छात्रों को भी मिलेगा। इस संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग ने आदेश जारी कर दिए है।

दरअसल, राज्य सरकार ने आदेश जारी कर 24 मार्च शुक्रवार को गणगौर मेले के उपलक्ष्य में मध्यान्ह 01 :30 बजे से आधे दिन का अवकाश घोषित किया है। यह अवकाश जयपुर स्थित राज्य सरकार के समस्त कार्यालयों , राजकीय उपक्रमों , शिक्षण संस्थानों के लिए घोषित किया गया है।

3 अप्रैल को सार्वजनिक अवकाश

इसके अलावा राज्य सरकार ने एक आदेश जारी कर वर्ष 2023 के घोषित सार्वजनिक अवकाशों की सूची में भी आंशिक संशोधन किया है। इसके तहत महावीर जयंती के उपलक्ष्य में अब 3 अप्रैल 2023 को सम्पूर्ण राज्य में सार्वजनिक अवकाश रहेगा। पूर्व में महावीर जयंती के उपलक्ष्य में सार्वजनिक अवकाश 4 अप्रैल मंगलवार को घोषित किया गया था। अब 4 अप्रैल को कार्य दिवस रहेगा।

बोर्ड परीक्षाओं के चलते बदला फैसला

राज्य सरकार ने यह फैसला बोर्ड परीक्षाओं के चलते लिया है। राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की इस दिन पूर्व घोषित परीक्षायें अब 4 अप्रैल मंगलवार को आयोजित की जायेंगी। राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के प्रशासक और संभागीय आयुक्त भंवर लाल मेहरा ने बताया कि तीन अप्रेल को पूर्व घोषित कार्यक्रमानुसार सैकण्डरी स्तर पर गणित और सीनियर सैकण्डरी स्तर पर कम्प्यूटर विज्ञान, इन्फोरमेटिक्स प्रेक्टिसेस विषय की परीक्षा का आयोजन होना था, जो अब मंगलवार 4 अप्रेल को आयोजित की जायेगी।

राजस्थान में गणगौर का विशेष महत्व

बता दे कि राजस्थान में गणगौर का बड़ा महत्व माना जाता है। यह फाल्गुन मास की पूर्णिमा यानी होलिका दहन के साथ शुरू होता है, जो चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को गणगौर के रूप में मनाया जाता है। इसलिए इस साल 8 मार्च से शुरू होकर 24 मार्च 2023 को समाप्त होगा। गणगौर व्रत का भी विशेष महत्व है। इस पर्व को सुहागन और कुंवारी कन्याएं धूमधाम से मनाती है। इस दिन माता पार्वती और शिव जी की पूजा करने का विधान है। महिलाएं पति की लंबी आयु, अच्छे स्वास्थ्य के लिए और कुंवारी कन्याएं मनचाहा पति पाने के लिए इस व्रत को रखती हैं।

 

 

 


About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)

Other Latest News