राज्य सरकार का बड़ा तोहफा, मानदेय में भारी वृद्धि, नई दरें 1 अक्टूबर से लागू, जल्द खाते में आएंगे 30000 तक रुपए, आदेश जारी

 डिप्टी मेयर का मानदेय 7000 रुपये बढ़ाया गया है, जिसके बाद उप-महापौर का मानदेय 13,000 रुपए को बढ़ाकर 20,000 रुपए कर दिया गया है।

Haryana Honorarium Hike 2023 : हरियाणा सरकार ने स्थानीय निकाय प्रतिनिधियों को बड़ा तोहफा दिया है। राज्य सरकार नगर निगम, पालिका और परिषदों के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सदस्यों का मानदेय बढ़ा दिया है।मानदेय की नई दरें 1 अक्टूबर से लागू होंगी। गुरुवार को स्थानीय निकाय विभाग ने इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी है। राज्य सरकार ने प्रदेश के सभी निगम अधिकारियों को पत्राचार किया है, जिसमें कहा गया है कि मानदेय देने के लिए निकाय फंडों का ही इस्तेमाल किया जाएगा।बता दे कि बीते दिनों सीएम मनोहर लाल ने प्रदेश सरकार के नौ साल पूरे होने के अवसर पर पंचायत प्रतिनिधियों तथा निकाय प्रतिनिधियों की वेतन वृद्धि का ऐलान किया था।

किसकी कितनी बढ़ी सैलरी

  • अधिसूचना के मुताबिक, सबसे ज्यादा मानदेय 9500 रुपये मेयर का बढ़ाया है। महापौर को मिलने वाले 20,500 रुपए मासिक मानदेय को बढ़ाकर 30,000 रुपए किया गया है।
  • सीनियर डिप्टी मेयर का 8500 रुपये मानदेय बढ़ाया गया है, जिसके बाद वरिष्ठ उप-महापौर के मानदेय 16,500 रुपए से बढ़ाकर 25,000 रुपए कर दिया गया है।
  •  डिप्टी मेयर का मानदेय 7000 रुपये बढ़ाया गया है, जिसके बाद उप-महापौर का मानदेय 13,000 रुपए को बढ़ाकर 20,000 रुपए कर दिया गया है।
  • पार्षदों के मानदेय में भी 4500 रुपये का इजाफा किया है।पार्षद का मानदेय 10,500 रुपए से बढ़ाकर 15,000 रुपए किया गया है।
  • परिषद में अध्यक्ष का मानदेय 7500 बढ़ाया है जबकि उपाध्यक्ष एवं सदस्यों का मानदेय 4500 बढ़ाया है। पालिका में अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं सदस्यों सभी का मानदेय 3500 बढ़ाया है।
  • नगर परिषद के अध्यक्ष का मानदेय 10,500 रुपए से बढ़ाकर 18,000 रुपए, उपाध्यक्ष का मानदेय 7,500 रुपए से बढ़ाकर 12,000 रुपए, पार्षदों का मानदेय 7,500 रुपए से बढ़ाकर 12,000 रुपए किया गया है।
  • नगर पालिका अध्यक्ष का मानदेय 6,500 रुपए से बढ़ाकर 10,000 रुपए, उपाध्यक्ष का मानदेय 4,500 रुपए से बढ़ाकर 8,000 रुपए तथा पार्षदों का मानदेय भी 4,500 रुपए से बढ़ाकर 8,000 रुपए किया गया है।