Taste Of Bikaner: बहुत प्रसिद्ध है बीकानेर की चायपट्टी, स्वादिष्ट व्यंजनों का आनंद लेने के लिए उमड़ते हैं शौकीन

Taste Of Bikaner

Taste Of Bikaner Chai Patti: भारत ऐसा देश है जो अपने ऐतिहासिक स्थल, सांस्कृतिक और धार्मिक धरोहरों के साथ अपने पहनावे, बोली और स्वादिष्ट जायके के लिए बहुत प्रसिद्ध है।

देश के हर राज्य की अलग पहचान है और यहां आने वाले पर्यटक हमेशा ही यहां की हर चीजों में मंत्रमुग्ध हो जाते हैं। राजस्थान एक बहुत ही सुंदर राज्य है जहां अक्सर पर्यटकों का आना जाना लगा रहता है। यहां घूमने फिरने के लिहाज से कई सारी जगह मौजूद है जो पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती है।

राजस्थान जितना अपनी खूबसूरत जगह मीठी बोली और पहनावे के लिए जाना जाता है उतना ही प्रसिद्धि यह अपने मशहूर व्यंजनों के लिए भी है। यहां एक से बढ़कर एक खाने-पीने के आइटम बनाए जाते हैं जिनका स्वाद देश के किसी दूसरे कोने में आपको नहीं मिलेगा।

यहां बनाई जाने वाली स्वादिष्ट दाल बाटी हो या फिर कचौरी एक बार जो इनका स्वाद चख लेता है वह उसे जिंदगी भर नहीं भूल सकता। यही वजह है कि यहां आने वाले पर्यटक राजस्थानी व्यंजनों का स्वाद लेना बिल्कुल भी नहीं भूलते हैं।

यहां जानें Taste Of Bikaner

राजस्थान की बात निकले और बीकानेर का जिक्र ना हो यह भला कैसे हो सकता है। वहीं जब बीकानेर का नाम आए और खाने-पीने की चर्चा ना निकले यह भी नामुमकिन सी ही बात है। आज हम आपको यहां की एक मशहूर जगह के बारे में बताते हैं जो ना सिर्फ राजस्थान बल्कि देश भर में प्रसिद्ध है। स्थानीय लोगों के साथ पर्यटकों का जमावड़ा भी यहां पर देखा जाता है।

बीकानेर की चायपट्टी

राजस्थान के बीकानेर में मौजूद चायपट्टी नामक जगह देश भर में मशहूर है और यहां स्थानीय निवासियों के साथ बाहर से आने वाले पर्यटकों की भीड़ भी देखी जाती है।

सुबह 6 बजे से शुरू होने वाली यह जगह शाम 6 बजे तक चमक दमक से भरी रहती है और दिन भर में लगभग 5 से 6000 लोग यहां चाय, कचौरी और पराठे किस बात का आनंद लेने के लिए पहुंचते हैं।

 

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Ravi Gahlot (@ravigahlotclicks)

यहीं होती है सुबह

बीकानेर के रहने वाले लोग इस जगह के स्वाद के इतने ज्यादा दीवाने हैं कि उनकी सुबह की शुरुआत यहीं से होती है। सुबह होते ही यहां रहने वाले 40 से 50 फ़ीसदी लोग नींद से उठ कर सीधे यहां पहुंच जाते हैं और चाय पट्टी की गली में चाय नाश्ता करके ही घर लौटते हैं।

इस जगह पर मिलने वाले पराठे की साइज भी बड़ी होती है, जिसके साथ सब्जी सर्व की जाती है और पर्यटक इस का आनंद बड़े ही मजे के साथ लेते हुए दिखाई देते हैं।

मिलता है हर व्यंजन

राजस्थान की इस चाय पट्टी में ग्राहकों के लिए हर तरह का व्यंजन परोसा जाता है। चाय, कचौरी और पराठे के लिए प्रसिद्ध ये जगह आने वाले पर्यटकों को दही बड़ा, ब्रेड बड़ा, समोसा, कांजी बड़ा, पापड़ी जैसी चीजें भी सर्व करती है।

पराठे की वैरायटी की बात की जाए तो यहां आलू के अलावा दाल और पनीर के पराठे भी परोसे जाते हैं जिनका स्वाद यहां आने वाले पर्यटकों को दीवाना बना देता है। इसके अलावा आप अगर कुछ पीना चाहते हैं तो चाय के अलावा आपको यहां स्वादिष्ट लस्सी भी मिल जाएगी।

ऐसे बनी चायपट्टी

स्थानीय लोगों के मुताबिक यह जगह पहले लोहे की पट्टी के नाम से जानी जाती थी। इसके बाद इसका नाम भी की पट्टी पड़ा और अब ये चाय पट्टी के नाम से बीकानेर ही नहीं बल्कि देशभर में पहचानी जाती है।

इस जगह पर एक के बाद एक कई सारी दुकानें हैं जिन पर ग्राहकों को अलग-अलग तरह के स्वादिष्ट व्यंजन खाने का मौका मिलता है। दुकान है तो यहां 35 साल से भी ज्यादा समय से लग रही है लेकिन उनका स्वाद आज भी लोगों को दीवाना बना देता है।

छुट्टियों का मौसम चल रहा है और सभी कहीं ना कहीं घूमने जाने की प्लानिंग कर रहे हैं। अगर आप भी कहीं जाना चाहते हैं और राजस्थान जाने की सोच रहे हैं, तो यहां के बीकानेर में मौजूद शानदार जगह का दीदार करना बिल्कुल भी ना भूलें। यहां का स्वादिष्ट स्वाद आपकी ट्रिप को आनंद से भर देगा।


About Author
Diksha Bhanupriy

Diksha Bhanupriy

"पत्रकारिता का मुख्य काम है, लोकहित की महत्वपूर्ण जानकारी जुटाना और उस जानकारी को संदर्भ के साथ इस तरह रखना कि हम उसका इस्तेमाल मनुष्य की स्थिति सुधारने में कर सकें।” इसी उद्देश्य के साथ मैं पिछले 10 वर्षों से पत्रकारिता के क्षेत्र में काम कर रही हूं। मुझे डिजिटल से लेकर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का अनुभव है। मैं कॉपी राइटिंग, वेब कॉन्टेंट राइटिंग करना जानती हूं। मेरे पसंदीदा विषय दैनिक अपडेट, मनोरंजन और जीवनशैली समेत अन्य विषयों से संबंधित है।

Other Latest News