NDA की बैठक में शामिल होंगे चंद्रबाबू नायडू, दिल्ली रवाना होने से पहले मीडिया से कह दी ये बड़ी बात

चंद्रबाबू नायडू ने कहा- "मुझे मालूम है आप हमेशा खबरें चाहते हैं लेकिन मैं भी अनुभवी हूं और मैंने इस देश में कई राजनीतिक बदलाव देखे हैं हम NDA में हैं, मैं NDA की बैठक में जा रहा हूं।

Chandrababu Naidu

NDA meeting in Delhi : देश की जनता ने अपना फैसला सुना दिया है, कांग्रेस के नेतृत्व वाले विपक्षी पार्टियों ने गठबंधन I.N.D.I.A को मात्र 234 सीटें मिली वहीं भाजपा और उसके गठबंधन NDA को 291 सिटीं मिलीं यानि NDA को सरकार बनाने के लिए 272 का जादुई आंकड़ा मिल गया लेकिन सरकार एक गठन से पहले चल रही चर्चाओं में दो पार्टी प्रमुख पर संशय किया जा रहा है इसमें से एक है JDU के नीतीश कुमार और दूसरे TDP के चंद्रबाबू नायडू, हालाँकि आज दिल्ली में होने वाली NDA घटक दलों की बैठक में शामिल होने के लिए दोनों रवाना हो गए हैं।

TDP प्रमुख चंद्रबाबू नायडू ने कहा – हम NDA में हैं

TDP प्रमुख चंद्रबाबू नायडू आज विजयवाड़ा से दिल्ली के लिए सुबह रवाना हुए, उससे पहले उन्होंने मीडिया से भी बात की , मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए नारा चंद्रबाबू नायडू ने कहा- “मुझे मालूम है आप हमेशा खबरें चाहते हैं लेकिन मैं भी अनुभवी हूं और मैंने इस देश में कई राजनीतिक बदलाव देखे हैं हम NDA में हैं, मैं NDA की बैठक में जा रहा हूं।”

एक ही फ्लाईट में पटना से दिल्ली के लिए रवाना हुए नीतीश और तेजस्वी 

उधर JDU प्रमुख नीतीश कुमार भी आज पटना से दिल्ली के लिए रवाना हो गए, वो जिस फ्लाईट से रवाना हुए उसी से तेजस्वी यादव भी दिल्ली रवाना हुए, नीतीश NDA की बैठक में हिस्सा लेने के लिए और तेजस्वी I.N.D.I.A. की बैठक में हिस्सा लेने के लिए रवाना हुए है, फ्लाईट में मौजूद एक टीवी चैनल के रिपोर्टर ने जब नीतीश कुमार से सवाल किया तो उन्होंने कहा मैं आपको नमन करना चाहता हूँ बस, वहीं तेजस्वी ने मुंह फेरते हुए कहा बाद में बात करते हैं, इन दोनों की एक ही फ्लाईट में साथ की तस्वीर खूब वायरल हो रही है।

NDA की बैठक में शामिल होंगे चंद्रबाबू नायडू, दिल्ली रवाना होने से पहले मीडिया से कह दी ये बड़ी बात


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ....पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News