शिक्षकों-कर्मचारियों को जल्द मिलेगा बड़ा तोहफा, मानदेय में होगी वृद्धि, 50000 तक बढ़ेगी सैलरी, 19 को अहम बैठक

Employees salary hike: नए साल से पहले चंडीगढ़ की पंजाब यूनिवर्सिटी के कर्मचारियों और गेस्ट फैकल्टी के लिए अच्छी खबर है। जल्द गेस्ट फैकल्टी के मानदेय में बढ़ोत्तरी की जाएगी। इसके बाद गेस्ट फैकल्टी का वेतनमान प्रति माह 50 हजार तक बढ़ जाएगा।इसके लिए 19 दिसंबर को एक बड़ी बैठक बुलाई गई है, जिसमें इस पर अंतिम निर्णय लिया जाएगा।

दरअसल, वर्तमान में पीयू में गेस्ट फैकल्टी को 25 हजार रुपये प्रति महीना मानदेय दिया जाता है ।अमर उजाल की खबर के अनुसार, इसको लेकर यूजीसी ने 28 जनवरी 2019 को पत्र जारी किया था, जिसमें यूनिवर्सिटी और कॉलेजों में गेस्ट फैकल्टी को 1500 रुपये प्रति लेक्चर और महीने के अधिकतम 50 हजार रुपये मानदेय देने के निर्देश दिए थे, लेकिन अबतक प्रक्रिया शुरू नहीं की गई है, इसलिए अब 19 दिसंबर को होने जा रही सिंडिकेट बैठक में इसका फैसला लिया जाएगा।

अमर उजाला की खबर के मुताबिक, इस मानदेय का लाभ लेने के लिए गेस्ट लेक्चरर का क्वालिफिकेशन रेगुलर लेक्चरर के समान ही रखा गया है।वही लाभ देने के लिए शिक्षण संस्थानों में सिलेक्शन कमेटी गठित की जाएगी,जिसमें कुलपति या उनके द्वारा नामांकित सदस्यों के अलावा सब्जेक्ट एक्सपर्ट, डीन ऑफ कॉलेज व एससी-बीसी नॉमिनी भी शामिल होंगे जो असिस्टेंट प्रोफेसर की चयन प्रक्रिया के अनुसार ही गेस्ट फैकल्टी का चुनाव करेगी।

इसके अलावा पंजाब यूनिवर्सिटी की ओर से वित्तीय वर्ष 2022-23 से शिक्षकों को कांफ्रेंस, सेमिनार, प्रोजेक्ट लेखन इत्यादि के लिए दिए जाने वाले बजट फंड फॉर प्रमोशन ऑफ रिसर्च, इनोवेशन एंड स्टार्टअप्स के दिशा निर्देशों को तय किया जाएगा। इससे प्रोफेसरों को देश-विदेश में शोध और सेमिनार में जाने के लिए यूनिवर्सिटी की ओर से वित्तीय सहायता मिलेगी।