Terrorist Attack: जम्मू-कश्मीर में श्रद्धालुओं पर आतंकी हमला, खाई में गिरी बस, 10 की मौत, 33 लोग घायल 

जम्मू-कश्मीर में तीर्थयात्रियों की बस पर अंतकी हमला हुआ। बस के खाई में गिरने से 10 लोगों की मौत हो चुकी है।

jammu kashmir

Jammu Kashmir Terrorist Attack: जम्मू-कश्मीर के रियासी में रविवार को श्रद्धालुओं से भरी बस खाई में गिर गई। आतंकों हमले की आशंका जताई जा रही है। सूत्रों के मुताबिक बस शिवखोड़ा मंदिर से लौट रही थी। तभी तेरयाथ गाँव में नकाबपोश आतंकवादियों ने गोलीबारी शुरू कर दी। लगातार फायरिंग के बाद बस खाई में लुढ़क गई है। हादसे में 10 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं 33 लोग घायल हैं।

सामने आया हादसे का वीडियो

दुर्घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस, सेना और अर्धसैनिक बलों की टीम मौके पर पहुंची। फिलहाल बचाव कार्य पूरा हो चुका है।  घटनास्थल पर कई गोलियां बरामद की गई। पूरे इलाके में घेराबंदी कर दी गई है। घटना से संबंधी वीडियो भी सामने आया है। जिसमें देखा गया कि बस खाई में गिरी हुई है। लोगों के शव आसपास पड़े हुए हैं। मृतकों में महिला, पुरुष और बच्चे भी शामिल हैं।

रियासी एसपी ने क्या कहा?

रियासी के एसपी मोहित शर्मा ने कहा, “शुरुआती रिपोर्टों से पता चला है कि आतंकवादियों ने शिवखोड़ा से कटरा जा रही श्रद्धालुओं की बस पर फायरिंग की। गोलोबारी के कारण ड्राइवर का संतुलन बिगड़ा और बस कई फुट नीचे खाई में जा गिरी। घटना में 33 लोगों जख्मी हुए हैं। यात्रियों की पहचान अभी तक नहीं हुई है। तीर्थस्थल और पूरे इलाके को सुरक्षा बलों ने घेरे में ले लिया है।”

आतंकवाद के खिलाफ पूरा देश एकजुट खड़ा है- राहुल गांधी ने कहा

हादसे को लेकर राहुल गांधी ने शोक व्यक्त किया है। उन्होनें कहा, “जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले में शिवखोड़ी मंदिर से तीर्थयात्रियों को ले जा रही बस पर कायरतापूर्ण आतंकी हंका अत्यंत दुखद है। यह शर्मनाक घटना जम्मू-कश्मीर के चिंताजनक सुरक्षा हालातों की असली तस्वीर है। मैन सभी शोक संतप्त परिजनों को अपनी घरी संवेदनाएं व्यक्त करता हैं। और घायलों के लिए जल्द से जल्द ठीक होने की आशा करता हूँ। आतंकवाद के खिलाफ पूरा देश एकजुट खड़ा है।”  वहीं मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, “हम अपने लोगों पर हुए भीषण आतंकवादी हमले और हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति जानबूझकर किए गए अपमान की स्पष्ट रूप से निंदा करते हैं। मोदी (अब एनडीए) सरकार द्वारा शांति और सामान्य स्थिति लाने का सारा प्रचार खोखला साबित होता है।”

 


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है।अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News