दहेज की कार बनी हादसे का सबब, शादी की खुशियां मातम में बदली

सांकेतिक तस्वीर

इटावा, डेस्क रिपोर्ट। दहेज (dowry) लेना और देना दोनों अपराध है लेकिन आज भी ये कुप्रथा पूरी तरह बंद नहीं हुई है। अब भी शादियों (marriage) में दहेज का लेनदेन चलता है। इसी दहेज की एक कार (car) के कारण एक महिला की मौत हो गई। घटना इटावा की है और इस दहेज की कार के कारण शादी की खुशिया मातम में बदल गई।

विद्यालय ने दी भारत माता की जय बोलने पर सजा, पूर्व विधायक धरने पर

इटावा के अकबरपुर गांव में जहां 24 साल के अरुण कुमार की शादी होनी थी और घर में तिलक समारोह चल रहा था। पीएसी जवान अरूण कुमार को शादी में दुल्हन के परिवार ने उपहार स्वरूप एक कार दी थी। नई कार की चाबी हाथ में आने से दूल्हे (groom) को जोश आ गया और तुरंत ही टेस्ट ड्राइव करने चला गया। लेकिन उसे कार चलाना नहीं आता था और इसी कारण हादसा हो गया। अरुण कुमार ने कार स्टार्ट करने के बाद ब्रेक की बजाय एक्सीलेटर दबा दिया और बेकाबू कार पास में खड़े रिश्तेदारों से जा टकराई। बताया जा रहा है कि उस समय वहां मौजूद लोग खाना खा रहे थे।

इस हादसे में 35 साल की सरला देवी की कार से कुचलकर मौत हो गई वहीं चार अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। घायलों में दस साल की बच्ची भी है। बताया जा रहा है कि अरुण कुमार ने दोस्तों के कहने पर कार की टेस्ट्र ड्राइव का मन बनाया जबकि उसे कार चलाना आता नहीं था। इसी दौरान स्पीट कंट्रोल नहीं करने के कारण ये घटना हो गई। इस हादसे के बाद वहां अफरातफरी का माहौल बन गया और कुछ ही पल पहले खुशी वाले घर में मातम पसर गया।