वाहनों में यात्रियों की सुरक्षा को लेकर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने लिया बड़ा फैसला, जानें क्या हैं कहा

1 जनवरी 2022 से अनिवार्य कर दिया है

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। देश में सड़क हादसे बड़ी तादाद में होते हैं। इसको लेकर भारतीय बाजार में बिकने वाले वाहनों में यात्रियों की सुरक्षा एक अहम मुद्दा हैं इन मुद्दों को दूर करने के लिए सरकार ने कई कदम उठाए हैं। केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने शुक्रवार को एक ट्वीट में करके जानकारी दी हैं कि आठ लोगों को ले जाने वाले मोटर वाहनों के लिए न्यूनतम छह एयरबैग अनिवार्य करने के लिए जीएसआर अधिसूचना के मसौदे को मंजूरी दे दी है।

यह भी पढ़े… कोरोना को लेकर सख्त निर्देश, नहीं किया पालन तो होगी FIR दर्ज

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री गडकरी ने कहा, “यह आखिरकार सभी सेगमेंट में यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करेगा, भले ही वाहन की कीमत/वैरिएंट कुछ भी हो।” आगे उन्होंने लिखा है कि उनके मंत्रालय ने पहले ही ड्राइवर एयरबैग को 1 जुलाई 2019 से और फ्रंट को-पैसेंजर एयरबैग को 1 जनवरी 2022 से अनिवार्य कर दिया है।

यह भी पढ़े…मुरैना : धार्मिक और पर्यटन का एक बड़ा केंद्र बने शनिमंदिर – केंद्रीय मंत्री तोमर

गौरतलब हैं कि 6 एयरबैग का फैसला M1 कैटेगरी की कारों के लिए किया गया है। जिसमें आगे और पीछे दोनों कंपार्टमेंट में बैठे लोगों के सामने और पीछे से होने वाले टक्करों के असर को कम करने के लिए चार अतिरिक्त एयरबैग अनिवार्य हैं। इसमें यह एयरबैग कार के सभी यात्रियों को कवर करेंगे। उन्होंने कहा कि भारत में मोटर वाहनों को पहले से कहीं ज्यादा सुरक्षित बनाने के लिए यह एक महत्वपूर्ण फैसला है।