कानपुर में जर्जर मकान ढहने से मां समेत दो बच्चों की मौत, अल सुबह गहरी नींद में सो रहे परिवार पर गिरी छत

कानपुर के रिजवी रोड पर पुराना दो मंजिला जर्जर मकान की छत लकड़ी की बल्लियों के सहारे टिकी थी जिसका एक हिस्सा भरभरा कर ढह गया। छत के नीचे से सो रहे परिवार के चार लोग मलबे में दब गए जिसमें मां समेत 2 बच्चों की मौत हो गई।

कानपुर, डेस्क रिपोर्ट। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कानपुर (Kanpur) में गुरुवार सुबह बड़ा हादसा हो गया जिसमें एक पुराने मकान की छत ढहने से 3 लोगों की मौत हो गई। ताज़ा मामला कानपुर के बेकनगंज (Becon ganj kanpur) थाना क्षेत्र के रिजवी रोड इलाके का है जहां एक घर की छत जर्जर हो कर गिर गई, जिसके मलबे में दबकर परिवार के चार लोग क्षतिग्रस्त हुए, जिसमें मां और दो बच्चों की मौत हो गई है। हादसे में मृतक महिला का पति गंभीर रूप से घायल है। मकान ढहने से पूरे इलाके में हड़कंप मच गया। आसपास के लोगों ने तत्काल पुलिस को इसकी सूचना दी जहां पुलिस और दमकल कर्मियों ने लोगों की मदद से किसी तरह मलबे में फंसे हुए लोगों को बाहर निकाला और इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। वहीं रेस्क्यू टीम ने अभी तक 11 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया है।

ये भी देखें- कांग्रेस विधायक का Video Viral – तहसीलदार को कहा 500 में बिकने वाला भ्रष्टाचारी

जानकारी के अनुसार बेकनगंज के रजबी रोड पर मस्जिद के पास करीब 80 साल पुराना जर्जर दो मंजिला मकान है जिसकी छत बीते दिनों बारिश के बाद से काफी कमजोर हो चुकी थी। मकान के भूतल में परिवार के 5 सदस्य गहरी नींद में सो रहे थे। तभी अल सुबह लगभग 5:30 बजे अचानक मकान भरभरा कर गिर गया जिससे गहरी नींद में सो रहे लोगों को संभलने का भी मौका नहीं मिला। वहीं घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने राहत और बचाव कार्य शुरू कर दिया। हादसे में सभी घायलों को उर्सला अस्पताल भेजा गया है। हादसे में एक महिला रुखसाना (35) और उसके दो बच्चों शिफा (7), नोमान (4) की मौत हो गई। वहीं रेस्क्यू के दौरान एक दमकल कर्मी भी घायल हो गए। पुलिस प्रशासन मौके पर मौजूद है। बता दें कि करीब 80 साल पुराने इस तीन मंजिला मकान में 11 से अधिक परिवारों में 40 लोग रहते थे।