UP Weather: मौसम में बदलाव, 49 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, 2 दिन स्कूल बंद, जानें विभाग का पूर्वानुमान

यूपी मौसम विभाग (UP Meteorological Department) की मानें तो 11 अक्टूबर तक 49 जिलों में गरज चमक के साथ मध्यम से भारी बारिश की चेतावनी जारी की है।

up weather alert

लखनऊ, डेस्क रिपोर्ट। उत्तर प्रदेश में 11 अक्टूबर तक भारी बारिश का अनुमान लगाया गया है। मौसम विभाग आज शनिवार 8 अक्टूबर को ग्रे और बाकी चार दिनों के लिए येलो और आरेंज अलर्ट जारी किया है। यूपी मौसम विभाग (UP Meteorological Department) की मानें तो 11 अक्टूबर तक 49 जिलों में गरज चमक के साथ मध्यम से भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। पश्चिमी यूपी के जिलों में 9 अक्टूबर तक बारिश होगी, इसके लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।वही गोंडा, बलरामपुर, सिद्धार्थ नगर, बहराइच, बस्ती, महाराजगंज, बाराबंकी में भी तेज़ बारिश हो सकती है।

यह भी पढ़े…CG Weather: बंगाल की खाड़ी से मिल रही नमी, कई जिलों में बारिश के आसार, पढ़े मौसम विभाग का पूर्वानुमान, अबतक 1266.3 मिमी वर्षा

यूपी मौसम विभाग के अनुसार,अगले तीन चार दिन तेज तक तेज बारिश और फिर तीन दिन तक हल्‍की बारिश के आसार हैं। प्रदेश में 11 अक्टूबर तक रुक-रुककर बारिश होती रहेगी। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के इलाकों और पूर्वी उत्तर प्रदेश में आज 8 अक्टूबर तक मध्यम से तेज वर्षा की संभावना है।बंगाल की खाड़ी में बना हवा के कम दबाव का क्षेत्र यूपी के ऊपर से गुजर रहा है। एक सप्ताह बाद तय होगा कि मानसून विदा हुआ या नहीं। 15 अक्टूबर के बाद ठंड दस्तक दे सकती है।

यूपी मौसम विभाग के अनुसार, वेस्ट यूपी में ठंडी हवाओं के असर और चक्रवाती परिसंचरण के कारण 11 अक्तूबर तक भारी बारिश का अनुमान है। आज भारी बारिश की संभावना को देखते हुए ग्रे अलर्ट जारी किया गया है, जबकि चार दिनों के लिए यैलो अलर्ट जारी किया गया है। उत्तराखंड और पश्चिम उत्तर प्रदेश पर नम हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है। 11 अक्टूबर तक लगातार बरसात की संभावना है। मौसम विभाग ने एक मिलीमीटर बारिश रिकार्ड की है।

स्कूल बंद, फसलें बर्बाद, नुकसान की भरपाई करेगी सरकार

आगामी 4 दिनों में भारी बारिश की आशंका को देखते हुए आज 8 अक्टूबर को कक्षा 1 से 8वीं तक के गोंडा, बरेली और इटावा में स्कूलों को बंद रखने का आदेश जारी किया गया है। वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पिछले कई दिनों से राज्य के विभिन्न अंचलों में हो रही भारी बारिश से प्रभावित किसानों व अन्य नागरिकों को हुए नुकसान की भरपाई को लेकर सभी सम्बंधित विभागों के अधिकारियों और जिलाधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वरिष्ठ अधिकारी क्षेत्र का भ्रमण कर सर्वे करवाएं और राहत कार्यों पर नजर रखें। जनहानि और पशुहानि के मामलों में पीड़ितों को अविलम्ब अनुमन्य सहायता राशि प्रदान की जाए।

यह भी पढ़े..Transfer 2022: फिर प्रशासनिक फेरबदल, 88 अधिकारियों के तबादले, कई एएसपी-डीएसपी बदले, यहां देखें लिस्ट

इटावा के डीएम अवनीश राय ने सभी सरकारी और निजी स्कूलों को बंद रखने के निर्देश दिए हैं। डीएम की ओर से जारी आदेश के तहत 8 अक्टूबर को सरकारी और निजी स्कूलों में कक्षा एक से 12वीं तक की कक्षाएं बंद रहेंगी। बच्चों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यह निर्णय लिया गया है। गोंडा जिला प्रशासन की ओर से भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।बरेली जिलाधिकारी के निर्देश पर बीएसए विनय कुमार ने कक्षा एक से आठवीं तक के सभी स्कूलों में छुट्टी की घोषणा की। यह आदेश सुबह करीब 9:30 बजे जारी किया गया जबकि परिषदीय स्कूलों का समय 9 बजे से 3 बजे तक है।

नदी का जलस्तर बढ़ा, प्रशासन अलर्ट

राप्ती बैराज पर स्थित राप्ती नदी का जलस्तर एक बार पुन: बढ़ने पर श्रावस्ती प्रशासन ने रेड अलर्ट जारी किया है। प्रशासन द्वारा जारी अलर्ट के अनुसार सभी को सूचित किया जाता है कि नेपाल राष्ट्र के कुसुम बैराज के जलस्तर को देखते हुए राप्ती नदी का जलस्तर रात्रि 12 से 2 बजे के बाद 129.50 से ऊपर जा सकता है इस लिए अभी से सावधानी बरतते हुए राप्ती नदी के निकटवर्ती गांवों को सतर्क रहने का संदेश दिया जाता है। ज़िला प्रशासन लगातार स्थिति पर नज़र बनाये हुए है। किसी प्रकार की कोई लापरवाही न बरती जाए।इधर,अबतक आकाशीय बिजली और दीवार गिरने की घटनाओं में 10 लोगों की मौत हो गई है।

इन जिलों में बारिश की चेतावनी

गोरखपुर, देवरिया, कुशीनगर, सिद्धार्थनगर, संतकबीरनगर, महाराजगंज, सोनभद्र, चंदौली, वाराणसी, गाजीपुर, बलिया, मऊ, आजमगढ़, अंबेडकरनगर, जौनपुर, संत रविदास नगर, मिर्जापुर, प्रयागराज, कौशांबी, चित्रकूट, फतेहपुर, प्रतापगढ़, रायबरेली, अमेठी, सुल्तानपुर, अयोध्या, बस्ती, गोंडा, बलरामपुर, श्रावस्ती, बहराइच, लखीमपुर खीरी, सीतापुर, हरदोई, उन्नाव, कानपुर नगर, कानपुर देहात, हमीरपुर, बांदा, महोबा, झांसी, जालौन, इटावा, औरैया, कन्नौज, मैनपुरी, पीलीभीत, बरेली, फर्रुखाबाद और शाहजहांपुर में 11 अक्टूबर तक बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया गया है, इस दौरान कई इलाकों में आकाशीय बिजली गिरने की भी आशंका है।