UP Weather : आज से फिर बदलेगा मौसम, बादलों की आवाजाही, कई क्षेत्रों में बढ़ेगा तापमान, इन जिलों में बारिश-बिजली के आसार, जानें IMD का पूर्वानुमान

up weather

UP Weather Alert Today :  कोई मजबूत वेदर सिस्टम एक्टिव ना होने के चलते यूपी में आज शनिवार से एक बार फिर तेज बारिश का दौर थमने वाला है, हालांकि लोकल सिस्टम के चलते 30 अगस्त तक पूर्वी और पश्चिमी यूपी के कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश होने का अनुमान है। एक या दो स्थानों पर मेघ गर्जन और आकाशीय चमक भी हो सकती है। अगले तीन दिन में तापमान में 2-3 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि तो न्यूनतम तापमान कोई बदलाव देखने को नहीं मिलेगा।

यूपी मौसम  विभाग की मानें तो उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में आज न्यूनतम तापमान 26 डिग्री और अधिकतम तापमान 35 डिग्री दर्ज किया जा सकता है। लखनऊ में आंशिकतौर पर बादल छाए रह सकते हैं। गाजियाबाद में न्यूनतम तापमान 26 डिग्री और अधिकतम तापमान 32 डिग्री दर्ज होने का अनुमान है,  आंशिकतौर पर बादल छाए रहेंगे।शनिवार रविवार को मौसम साफ रहेगा, हालांकि बादलों की आवाजाही लगी रहेगी और ठंडी हवाओं के साथ प्रदेश के कुछ हिस्सों में गरज चमक के साथ हल्की बारिश हो सकती है। शनिवार और रविवार को पारे में एक डिग्री सेल्सियस का बदलाव होगा।

इन जिलों में बारिश की संभावना

मौसम विभाग के मुताबिक आज शनिवार को श्रावस्ती, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, महाराजगंज और कुशीनगर में कुछ स्थानों पर बारिश हो सकती है और सहारनपुर, शामली, मुजफ्फरनगर, मेरठ, बिजनौर, अमरोहा, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, पीलीभीत, शाहजहांपुर, लखीमपुर खीरी, सीतापुर, बहराइच, बाराबंकी, गोंडा, बस्ती, संतकबीरनगर, गोरखपुर, देवरिया में एक या दो स्थानों पर ही बारिश की संभावना  है। सिद्धार्थ नगर, गोंडा, बलरामपुर, श्रावस्ती, बहराइचऔर लखीमपुर खीरी जिले में आकाशीय चमक के साथ बिजली गिरने की संभावना है।

अगले पांच दिनों के मौसम का हाल

  •  26 और 27 अगस्त को पश्चिमी यूपी की अपेक्षा पूर्वी यूपी में ज्यादा जगहों पर बारिश होने की संभावना है।
  • 28 अगस्त को बारिश में कमी आ जायेगी। इस अवधि में पश्चिमी यूपी में एक दो स्थानों पर और पूर्वी यूपी में कुछ स्थानों पर गरज चमक के साथ बारिश होने की संभावना है।
  • 27 से 29 अगस्त तक राज्य में एक या दो स्थानों पर ही बारिश की बौछारें पड़ सकती है।
  • 30 और 31 अगस्त को पश्चिमी यूपी में मौसम शुष्क रहेगा। पूर्वी यूपी में कहीं-कहीं हल्की बौछारें देखने को मिलेंगी।

About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)

Other Latest News