UPSC Result 2020 : अमेरिकी की नौकरी छोड़ी, बिना कोचिंग सदफ चौधरी हासिल की 23वीं रैंक

सदफ ने यह सफलता  दूसरी कोशिश में हासिल की है। मेन्स इम्तिहान में उन्होंने पॉलिटिकल साइंस की बेहतर तैयारी की थी।

UPSC

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने शुक्रवार को सिविल सर्विसेज परीक्षा, 2020 के नतीजों का ऐलान कर दिया है, जिसमें मुस्लिम समुदाय के 29 उम्मीदवारों ने सफलता हासिल की है। इसमें उत्तराखंड की सदफ चैधरी ने टाॅप 25 में 23वां रैंक हासिल की है।उनका आईएएस के लिए चयन हुआ है। खास बात ये है कि सदफ ने यह मुकाम बिना किसी कोचिंग के हासिल किया है और इसके लिए अमेरिकी बैंक तक की नौकरी छोड़ दी।

यह भी पढ़े.. UPSC 2020 : MP के स्वर्गीय IAS के बेटे ने पूरी की पिता की इच्छा, आईएएस में सफल

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2020 ( UPSC CSE Result 2020 ) में उत्तराखंड के अमरोहा जिले की बेटी सदफ चौधरी ने 23वीं रैंक हासिल की है। मूल रूप से जोया की रहने वाली सदफ ने कैमिकल इंजीनियरिंग करने के बाद 2016 में एक अमेरिकी बैंक में जॉब करना शुरु कर दिया था, लेकिन यूपीएससी की तरफ रुख करने के चलते वे 2018 में जॉब छोड़कर सिविल सर्विसेज की तैयारी में जुट गईं और लगातार 2 साल की कड़ी मेहनत और बिना किसी कोचिंग सेंटर का सहारा लिए इस मुकाम को हासिल कर ना सिर्फ उत्तराखंड बल्कि देश का मान बढ़ाया है।

सदफ चौधरी उत्तराखंड के हरिद्वार जिले की भगवानपुर तहसील के मोहितपुर गांव निवासी है। सदफ ने यह सफलता  दूसरी कोशिश में हासिल की है। मेन्स इम्तिहान में उन्होंने पॉलिटिकल साइंस की बेहतर तैयारी की थी।वे रोजाना 8-10 घंटे पढ़ाई करती थी। सदफ के पिता मोहम्मद इसरार पहले उत्तरप्रदेश ग्रामीण बैंक में क्‍लर्क की नौकरी करते थे, जो वर्तमान में सहारनपुर जिले के नागल में उत्तरप्रदेश ग्रामीण बैंक में शाखा प्रबंधक के पद पर तैनात हैं।सदफ की एक छोटी बहन अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से MBBS का कोर्स कर रही हैं। वहीं छोटे भाई JNU में पढ़ाई कर रहे हैं।

यह भी पढ़े.. UPSC 2020 : एमपी कैडर के IPS के बेटे की ऊची छंलाग, IAS में हासिल की सफलता

UPSC की अगस्त-सितंबर 2021 को आयोजित इस लिखित परीक्षा और इंटरव्यू के आधार पर में कुल 761 उम्मीदवारों का चयन हुआ है, जिसमें 545 पुरुष और 216 महिलाएं शामिल हैं। वही 27 मुस्लिम उम्मीदवारों में से 20 पुरुष और 7 महिला शामिल हैं। इसके पहले 2019 में यह संख्या 44 थी। इस साल कुल 836 पद पर नियुक्तियां होनी हैं। इनमें 180 IAS, 36 IFS, 200 IPS के अलावा सेंट्रल सर्विस ग्रुप A के 302 और ग्रुप B के 118 पद हैं। सामान्य वर्ग के 263, आर्थिक रूप से पिछड़े 86, पिछड़ा वर्ग से 229, अनुसूचित जाति 122, अनुसूचित जनजाति से 61 कैंडिडेट ने परीक्षा पास की है।वहीं 150 अभ्यर्थियों को रिजर्व रखा गया है।